खुमैनी का फतवा ,हजरत आयशा का अपमान बंद हो

खुमैनी का फतवा ,हजरत आयशा का अपमान बंद हो

ईरान के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली खुमैनी ने हजरत आयशा के अपमान को गलत करार दिया है , हज़रत ख़दीजा सम्मेलन के आयोजकों से मुलाक़ात में ईरान के सुप्रीम लीडर आयतुल्लाहिल उज़्मा सैयद अली खुमैनी ने कहा कहा कि पैग़म्बरे इस्लाम (स) की पत्नी का अनादर वर्जित है।
Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये
उन्होंने कहा कि पैग़म्बरे इस्लाम (स) की समस्त पत्नियां, सम्मानीय हैं अतः जिसने भी उनका अपमान किया, मानो उसने स्वयं पैग़म्बरे इस्लाम (स) का अनादर किया है।

वरिष्ठ नेता ने कहा कि इस बात को मैं स्पष्ट रूप से कहता हूं कि हज़रत अली अलैहिस्सलाम ने हज़रत आएशा के साथ स्नेहपूर्ण व्यवहार किया। यह इसलिए था क्योंकि वे पैग़म्बरे इस्लाम (स) की पत्नी थीं।

इससे पहले भी खुमैनी पैग़म्बरे इस्लाम (स) की बीबीयो का अनादर किए जाने से बचने पर बल दिया।

Top Stories