Thursday , November 23 2017
Home / Featured News / खुले मुक़ाम पर ईस्टर की इबादत दुनिया‍-भर में ईसाईयों की तक़ारीब

खुले मुक़ाम पर ईस्टर की इबादत दुनिया‍-भर में ईसाईयों की तक़ारीब

यरूशलम: पोप फ्रांसीस ने  ईस्टर के इतवार की इबादत सेंट पीटर्स चौराहे में खुले मुक़ाम पर की जहां लाखों ईसाई सुकून के साथ सख़्त  इंतेज़ामात के दौरान उनकी तक़रीर सुनने जमा थे। पुलिस तमाम हैंड बैगस और पीठ पर लादे जानेवाले टूरिस्ट्स के बैगस की तलाशी ले रही थी।

रोमन शहरीयों और पत्रकारों की भीड़ सेंट पीटर्स चौक की तरफ‌ दौड़ती रही था जहां दोपहर के वक़्त‌ पोप हाज़िरीन को आशीर्वाद देंगे और अपनी तक़रीर में वैश्विक मुद्दों पर विचार व्यक्त करेंगे। बरसों तक सोश्यल मीडीया पर इस्लामी जिहादी वटीकन सिटी और रुम को अपने संभावित लक्ष्य के तौर पर पेश करते रहे हैं, ये मुल्क और शहर रोमन कैथोलिक गिरजाघर का हेडक्वार्टर समझा जाता है।

पिछले हफ़्ते पोप फ्रांसीस दो मर्तबा बरसर-ए-आम दहश्तगर्द कार्यवाईयों की निंदा कर चुके हैं जो ख़ुदा के नाम पर की जा रही हैं। पोप  इतवार को  सेंट पीटर गिरजाघर की सीढ़ीयों पर क़ायम किया गया था, नवजात ईसाई बच्चों को बपतिस्मा देने वाले हैं। यरूशलम से  मिली सूचना के अनुसार ग्रह पवित्र और दुनिया भर के ईसाइयों ने आज ईस्टर समारोहों मनाएं।

ईसाइयों के विश्वास के अनुसार जीसस क्रूस किए जाने के बाद उसी दिन 2000 साल पहले यरूशलेम लौटे थे। पवित्र चर्च यरूशलेम में स्थित है जहां आज ईसाइयों का हुजूम था। ईसाई धर्म के अनुसार यहीं पर जीसस को क्रूस पर चढ़ाया गया और दफनाया गया था और यहीं पर वह वापस भी आए थे।

उम्मीद है कि चर्च में विशेष इबादत की जाएगी। ईसाइयों के धर्म के अनुसार जीसस का जन्म इसी स्थान पर हुआ था। पोप ने इस मौके पर उम्मीद जताई कि इस अत्यधिक समारोह के अवसर पर बेल्जियम में हमले की निंदा चाहिए।

TOPPOPULARRECENT