Thursday , December 14 2017

खुसुसि रियासत की मुताल्बे को लेकर आज झारखंड बंद

झारखंड को खुसुसि रियासत का दरजा देने की मुताल्बे को लेकर आजसू, झाविमो और जदयू ने दो मार्च को झारखंड बंद बुलाया है। कई पार्टियों और तंज़ीमों ने इसका हिमायत किया है। आजसू ने अवामी मुहिम चला कर आम लोगों से हिमायत का मुताल्बा किया है। झ

झारखंड को खुसुसि रियासत का दरजा देने की मुताल्बे को लेकर आजसू, झाविमो और जदयू ने दो मार्च को झारखंड बंद बुलाया है। कई पार्टियों और तंज़ीमों ने इसका हिमायत किया है। आजसू ने अवामी मुहिम चला कर आम लोगों से हिमायत का मुताल्बा किया है। झाविमो ने कारोबारियों से मिल कर बंद को कामयाब बनाने की दरख्वास्त किया। झाविमो, आजसू और जदयू ने रांची में मशाल जुलूस निकाला।

मर्कज़ हुकूमत का पुतला फूंका : दारुल हुकूमत में झाविमो ने जयपाल सिंह स्टेडियम से मशाल जुलूस निकाला। जदयू की तरफ से अलबर्ट एक्का चौक पर मर्कज़ी हुकूमत का पुतला जलाया गया। शहर सदर संजय सहाय ने कहा कि रघुराम राजन कमेटी की रिपोर्ट में भी झारखंड को इंतेहाई पसमांदा रियासत की ज़मरे में रखा गया है। इसके बावजूद मर्कज़ी हुकूमत रिपोर्ट को नजरअंदाज कर रही है। इधर आजसू ने प्रो अशोक कुमार नाग की कियादत में करम टोली से बूटी मोड़ तक अवामी राब्ता मुहिम चलाया।

कारोबारियों और आम लोगों से बंद में शरीक होने की दरख्वास्त किया गया।
वर्किंग कमेटी के सदर कमल किशोर भगत ने कहा कि रघुराम राजन कमेटी की रिपोर्ट में झारखंड को सबसे कम तरक़्क़ी के रियासतों के जमरे में रखा गया है। इसके बाद भी झारखंड को खुसुसि रियासत का दरजा देने में मर्कज़ी हुकूमत की कोई दिलचस्पी नहीं है। एमएलए नवीन जायसवाल ने कहा कि बंद का ऐसा हिमायत करें कि रियासत की मांग मानने के लिए मर्कज़ी हुकूमत मजबूर हो जाये।

TOPPOPULARRECENT