ख्वातीन असात्ज़ा की होगी तक़र्रुरी

ख्वातीन असात्ज़ा की होगी तक़र्रुरी
रियासत हुकूमत का मुश्तरका प्रोग्राम (सीएमपी) तैयार हो गया है। वजीर ए आला हेमंत सोरेन दिन के 11 बजे सूचना भवन में इसकी एलान करेंगे बताया जाता है कि मुश्तरका प्रोग्राम में तालीम, दाखली सलामती और देहि तरक्की पर खुसूसी जोर दिया गया है।

रियासत हुकूमत का मुश्तरका प्रोग्राम (सीएमपी) तैयार हो गया है। वजीर ए आला हेमंत सोरेन दिन के 11 बजे सूचना भवन में इसकी एलान करेंगे बताया जाता है कि मुश्तरका प्रोग्राम में तालीम, दाखली सलामती और देहि तरक्की पर खुसूसी जोर दिया गया है। दाखली सलामती के तहत नक्सल की जड़ में जाकर मसला का हल खोजने, पुलिस अहलकारों की तादाद बढ़ाने और नयी पुलिस चौकियां कायम करने की बात कही गयी है।

तालीम को रोजगार लायक बनाने और लड़कियों की तालीम को बढ़ावा देने को लेकर भी हुकूमत के तमाम एत्तेहादी पार्टी मुत्फिक हैं। ख्वातीन असात्ज़ा की तक़र्रुरी की जायेगी। जराए के मुताबिक, सीएमपी में देहि ढांचा में पीएमजीएसवाइ को तेज करने और देहि बिजली के तहत गांवों में बिजली पहुंचाने की बात कही गयी है।

बताया जाता है कि मुश्तरका प्रोग्राम का खाका 20 से ज्यादा पन्नों की है। हुकूमत की मॉनिटरिंग के लिए समन्वय कमेटी बनाने का काम भी पूरा हो गया है। इसकी भी एलान हो सकती है। कमेटी में इत्तेहादी पार्टियों के लीडर शामिल होंगे। जराए के मुताबिक, मर्क़जी वजीर जयराम रमेश या कांग्रेस के रियासती इंचार्ज बीके हरि प्रसाद इसके सदर हो सकते हैं।

Top Stories