Tuesday , January 23 2018

ख्वातीन के लिए हेलमेट का लज़ूम

सड़क, ट्रांसपोर्ट और शाहराहों के मर्कज़ी वज़ीर-ए-ममलकत (Minister of State of Road Transport and Highways) तुषार ए चौधरी ने कल राज्य सभा में एक सवाल के तहरीरी (लिखित) जवाब में बताया कि टू व्हीलर पर पीछे बैठने वाली ख्वातीन को भी अब लाज़िमी तौर पर हेलमेट पहनना होगा।

सड़क, ट्रांसपोर्ट और शाहराहों के मर्कज़ी वज़ीर-ए-ममलकत (Minister of State of Road Transport and Highways) तुषार ए चौधरी ने कल राज्य सभा में एक सवाल के तहरीरी (लिखित) जवाब में बताया कि टू व्हीलर पर पीछे बैठने वाली ख्वातीन को भी अब लाज़िमी तौर पर हेलमेट पहनना होगा।

इन्हों ने बताया कि मोटर व्हीकल्स ऐक्ट 1988 की दफ़ा 129 के तहत पगड़ी पहनने वाले सिक्खों के सिवाए हर शख़्स को मोटर साइकिल चलाने या इस पर सवार करने के दौरान ऐसा हेलमेट पहनना ज़रूरी है जिस की हिंदुस्तानी मयारात (Indian Standards/ भारतीय आदर्श),के ब्यूरो ने तसदीक़ की हो और मोटर व्हीकल्स ऐक्ट 1988 में दो पहीयों वाली गाड़ी पर पीछे की नशिस्त पर बैठने वाली ख़ातून को भी हेलमेट पहनने से मसतसनी नहीं रखा गया है। मिस्टर चौधरी ने बहरहाल ये वज़ाहत भी कि मज़कूरा( कथित/ कहे हुए) क़ानून की दफ़ा 129 की दूसरी शक़ के तहत रियास्ती हुकूमतें किसी को मसतसनी करने केलिए अपने ज़ाबते बना सकती हैं।

TOPPOPULARRECENT