Wednesday , December 13 2017

गंगा तहरीक में मुस्लिम तंज़ीमों की शिरकत

गंगा नदी को आलूदगी से पाक करने के लिए उत्तर प्रदेश के वाराणसी में गुज़शता माह से जारी तहरीक में अब मुस्लिम तंज़ीमें भी शामिल हो गई हैं और उन्होंने कहा है कि गंगा को बचाने के लिए वो किसी भी हद तक जा सकते हैं।शहर के शाही इमाम मुफ़्ती मौला

गंगा नदी को आलूदगी से पाक करने के लिए उत्तर प्रदेश के वाराणसी में गुज़शता माह से जारी तहरीक में अब मुस्लिम तंज़ीमें भी शामिल हो गई हैं और उन्होंने कहा है कि गंगा को बचाने के लिए वो किसी भी हद तक जा सकते हैं।शहर के शाही इमाम मुफ़्ती मौलाना अबदुल बासित ने कहाकि अल्लाह ने सबसे पहले पानी बनाया और बाद में इंसानों को बनाया। गंगा नदी अल्लाह की नेमत है अगर उस की हिफ़ाज़त के लिए भूक हड़ताल या पुरअमन तहरीक चलाई जाती है तो पूरा मुस्लिम समाज इस में बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेगा।

ईसाई मज़हबी रहनुमा चन्द्रकांत ने कहा कि गंगा सभी की ज़रूरत है। उसे आलूदगी से पाक करने के लिए सभी को आगे आना होगा। क़ौमी एकता दल के लीडर अतहर जमाल लारी पहले से ही गंगा की तहरीक से वाबस्ता हैं। उन्होंने चार वज़ क़ब्ल स्टीकर और पोस्टर लगाकर कैन्ट स्टेशन से पोस्टर मुहिम का आग़ाज़ किया था। उन्होंने कल गंगा घाटो पर कश्तीयों को तहरीक की शनाख़्त वाला झंडा दिया था।

TOPPOPULARRECENT