Wednesday , September 26 2018

गन कल्चर के खिलाफ़ अमेरिका में दुनिया का सबसे बड़ा प्रदर्शन

गन कल्चर के खिलाफ वॉशिंगटन में अब तक का दुनिया का सबसे बड़ा मार्च निकला जिसमें पांच लाख से ज्यादा लोग शामिल हुए। वॉशिंगटन के अलावा पूरे अमेरिका में 700 से ज्यादा जगहों पर प्रदर्शन हुए।

ब्रिटेन में लंदन, जापान के टोक्यो, ऑस्ट्रेलिया के सिडनी, भारत में मुंबई समेत दुनिया के 100 शहरों में गन कंट्रोल की मांग को लेकर प्रदर्शन हुए।

अमरीका में फ्लोरिडा के स्कूल में 40 दिन पहले हुई फायरिंग में 17 बच्चों की मौत के बाद गन कंट्रोल की मांग को लेकर शुरू हुए प्रदर्शन शनिवार को ऐतिहासिक मार्च में बदल गए।

शनिवार को मार्च के दौरान कुछ बड़े सिलेब्रिटीज ने भी छात्रों का साथ दिया। गायक आरियाना ग्रांड, माइली सायरस और लिन मिरांडा सरीखी सिलेब्रिटीज ने अमेरिका की कैपिटोल बिल्डिंग के सामने स्टेज परफार्मेंस देकर छात्रों का हौसला बढ़ाया।

व्हाइट हाउस के प्रवक्ता जैक पार्किन्सन ने छात्रों की तारीफ करते हुए कहा, “हम उन सैकड़ों हिम्मतवाले अमेरिकियों की तारीफ करते हैं जो अपने अभिव्यक्ति की आजादी का इस्तेमाल कर रहे हैं।”

इसके साथ ही उन्होंने गन कंट्रोल के लिए उठाए गए राष्ट्रपति ट्रम्प के कदमों के बारे में भी बताया। बता दें कि ट्रम्प गन कंट्रोल के मामले में कड़े कदम उठाने की बात कह चुके हैं।

ट्रम्प बम्प स्टॉक (ऐसे उपकरण जिनसे रायफल मशीन गन की तरह गोलीबारी करती है) और स्कूलों की सिक्युरिटी बढ़ाने के लिए टीचरों और छात्रों को ट्रेनिंग देने की बात कह चुके हैं। तीन साल पहले ऑरेगॉन के कॉलेज में नौ लोगों की हत्या के बाद उस वक्त के प्रेसिडेंट बराक ओबामा रो तक पड़े थे।

अमरीकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने बीते महीने फ्लोरिडा स्कूल में शूटिंग से पीड़ित परिवारों से मुलाकात में कहा था- फायरिंग की घटनाओं से निपटने के लिए हर टीचर के हाथ में पिस्टल थमा देंगे।

TOPPOPULARRECENT