Tuesday , August 14 2018

गरीब अवाम को मकानात के अलाटमैंट में अम्दन (जान बुझ कर) ताख़ीर

सी पी एम सिटी कमेटी ने जे एन यू आर एम के तहत तामीर करदा मकानात को बैंक क़र्ज़ से मरबूत करने की कोशिशों के ख़िलाफ़ एहतिजाज किया और बैंक लोन से मरबूत किये बगैर इस्तिफ़ादा कुनिनदों ( गरीब अवाम ) को मुख़तस करदेने का हुकूमत बिलख़सूस कलैक्टर हैदराबाद से मुतालिबा क्या ,

इस सिलसिला में आज कलक्ट्रेट ऑफ़िस के रूबरू मसरस एम सिरे निवास राव और एम सिरनिवास अरकान सिटी की क़ियादत में धरना प्रोग्राम मुनज़्ज़म किया गया । कसीर तादाद में जमा एहितजाजी मर्द-ओ-ख़वातीन गरीब अफ़राद के साथ इंसाफ़ करने और बेघर गरीब अफ़राद को इमकना जात(मकान ) फ़राहम करने का मुतालिबा किया ।

मिस्टर एम सिरे निवास ने एहितजाजियों से ख़िताब करते हुए कहा कि हुकूमत-ओ-ज़िला इंतिज़ामीया गरीब-ओ-बेघर अफ़राद के मसाइल की यकसूई पर तवज्जा ना देते हुए इन अफ़राद के मसाइल को नज़र अंदाज कर रही है ।

उन्हों ने कहा कि साबिक़ में हुकूमत-ओ-ज़िला इंतिज़ामीया ने गरीब बेघर अफ़राद को जे एन यू आर एम स्कीम के तहत गरीब अफ़राद के लिये इमकना की तामीर करवाने और बैंक लोन भी हुकूमत की जानिब से फ़राहम करने का वाअदा कर के इन अफ़राद से मामूली रक़म डिपाज़िट करने का यक़ीन दिलाते हुए इन अफ़राद की झोंपड़ियों को बर्ख़ास्त करने के बाद अब गरीब अफ़राद से उन की रक़म के हिस्सा के तौर पर 26,760 रुपये अदा करने

और बैंक लोन फ़राहम ना करने की वजह से 53,520 रुपये भी इन इस्तिफ़ादा कननदों(गरीबों) को ही अदा करने ज़बरदस्ती कर रही है । मिस्टर सिरे निवास ने बताया कि हुकूमत और ज़िला इंतिज़ामीया ये जुमला 80 हज़ार रुपये अदा ना करने की सूरत में अब तक मनज़ूरा-ओ-अलॉट करदा मकानात की मंज़ूरी को मंसूख़(रद्द)करने का ऐलान किया है ।

उन्हों ने कहा कि गरीब अवाम अपने हिस्सा के तौर पर वाजिब अलादा रक़ूमात ही अदा करने के मौक़िफ़ में ना रहते हुए सोदी क़र्ज़ हासिल कर के ये रक़ूमात अदा कर के परेशानकुन हालात से दो-चार होने वाले इन अफ़राद से बैंक क़र्ज़ के हिस्सा की रक़ूमात भी अदा करने ज़बरदस्ती करने और ना करने की सूरत में मनज़ूरा मकानात को मंसूख़(रद्द)कर दिए जाने की धमकियां देना अफ़सोसनाक है ।

उन्हों ने कहा कि हुकूमत ने राजीव गिरोहा कल्पा , इंदिराम्मा हाउज़िंग और जय यन यन म्यू आर एम स्कीम के नाम पर बड़े पैमाने पर कसीर तादाद में मकानात तामीर कर के फ़राहम करने के वादों को पूरा ना करनेवाली हुकूमत थोड़े से मकानात भी गरीब अफ़राद को हवाले ना करते हुए इस मसला को तवालत दे रही है ।

मिस्टर सिरे निवास ने वाज़ेह तौर पर बैंक लोन फ़राहम करने की हुकूमत ही मुकम्मल ज़िम्मेदारी लेते हुए फ़ौरी तौर पर मकानात इस्तिफ़ादा कुनिनदों के हवाले करने का हुकूमत से मुतालिबा किया ।।

TOPPOPULARRECENT