Sunday , November 19 2017
Home / Sports / गरीब खिलाड़ी का हक मारकर युवराज सिंह को दिए 5 लाख?

गरीब खिलाड़ी का हक मारकर युवराज सिंह को दिए 5 लाख?

मुंबई: खेल वज़ारत ने 2012 में हिंदुस्तानी क्रिकेटर युवराज सिंह की माली मदद की थी। यह मदद कैंसर के इलाज के लिए की गई थी। एक अंग्रेजी अखबार की रिपोर्ट के मुताबिक युवराज सिंह को इलाज के लिए 5 लाख रूपए दिए गए थे।

यह रकम खिलाडियों के लिए बने National Welfare Fund से दी गई थी। राज्यसभा में लिखित जवाब में स्पोर्ट्स मिनिस्टर (आज़ाद इंचार्ज)सर्वानंद सोनोवाल ने यह मालूमात दी। स्पोर्ट्स मिनिस्टर से साबिक खिलाडियों के हालात को लेकर सवाल किया गया था।

National Welfare Fund की तंसीब उन बेहतरीन खिलाडियों की माली मदद के लिए की गई थी जिन्होंने खेल में मुल्क का नाम रोशन किया हो लेकिन वे अब तंगहाली में जी रहे हैं।

वज़ीर ने बताया कि वज़ारत उन खिलाडियों को मेडिकल ट्रीटमेंट के लिए माली मदद मुहैया कराता है जिनकी सालाना आमदनी 2 लाख रूपए से कम हो।

माली मदद National Welfare Fund से दी जाती है। वज़ीर ने 2012 से माली मदद पाने वाले खिलाडियों की फहरिस्त भी जारी थी। इसमें युवराज सिंह का नाम टॉप पर था। युवराज सिंह की मां शबनम का कहना है कि स्पोर्ट्स मिनिस्टर अजय माकन ने 2012 में युवराज सिंह को 5 लाख रूपए की मदद दी थी। उस वक्त युवराज का कैंसर का इलाज चल रहा था। युवराज सिंह की मां ने बताया कि उन्होंने किसी मदद के लिए दरखास्त नहीं किया था।

उन्हें इस बात की मालूमात भी नहीं थी कि रकम National Welfare Fund से दी गई है।

बकौल शबनम, हमने माली मदद के लिए किसी को नहीं कहा था। हमने यकीन तौर से दरखास्त नहीं किया था। खुद अजय माकन ने हमसे राबिता किया और 5 लाख रूपए का चेक भेजा था।

बीसीसीआई ने युवराज सिंह के इलाज पर जो खर्चा किया था उसका हमने वापसी (Repayment) कर दिया था। कुछ लोगों ने अपनी खाहिश से मदद किये थें ।

2011 में हिंदुस्तान ने क्रिकेट वर्ल्ड कप जीता था। इसके बाद पता चला था कि युवराज सिंह कैंसर से मुतास्सिर हैं। युवराज सिंह ने अमरीका में कैंसर का इलाज कराया था। इलाज के बाद उनकी टीम इंडिया में वापसी हुई थी।

TOPPOPULARRECENT