Monday , December 18 2017

गवर्नर के दो सलाहकार

रियासती गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन के मुशीरों की हैसियत से ताय्युनात किए गए। एन राय साबिक़ डायरेक्टर जनरल आफ़ पुलिस महाराष्ट्रा और सलाह उद्दीन अहमद ( आई ए एस ) साबिक़ चीफ़ सेक्रेटरी हुकूमत राजिस्थान ने रियासती गवर्नर से मुलाक़ात की और

रियासती गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन के मुशीरों की हैसियत से ताय्युनात किए गए। एन राय साबिक़ डायरेक्टर जनरल आफ़ पुलिस महाराष्ट्रा और सलाह उद्दीन अहमद ( आई ए एस ) साबिक़ चीफ़ सेक्रेटरी हुकूमत राजिस्थान ने रियासती गवर्नर से मुलाक़ात की और अपनी नई ज़िम्मेदारीयों का रियासती सेक्रेटेरिएट में जायज़ा हासिल करलिया।

बावसूक़ सरकारी ज़राए के मुताबिक़ बताया जाता हैके दोनों ही मुशीरान बड़े रियासती गवर्नर को सेक्रेटेरिएट में चैंबर्स अलॉट किए गए। सेक्रेटेरिएट में वाक़्ये डी बलॉक के गराउंड फ़्लोर में आठ वसीअ कमरे इन्हीं दीए गए।

इसके अलावा बताया जाता हैके रियासती चीफ़ सेक्रेटरी डॉ पी के मोहंती ने इन दोनों मुशीरान बराए रियासती गवर्नर को मुख़्तलिफ़ मह्कमाजात भी अलॉट करते हुए ( मह्कमाजात की ज़िम्मेदारी सौंपते हुए) अहकामात जारी किए।

ज़राए के मुताबिक़ बताया जाता हैके रियासत में सदर राज के नफ़ाज़ और रियासत आंध्र प्रदेश की तक़सीम के अमल में गवर्नर के साथ तआवुन करने के लिए मर्कज़ी हुकूमत ने दो मुशीरों को ताय्युनात किया। इन दोनों मुशीरों ने अपनी नई ज़िम्मेदारी का जायज़ा हासिल करने पर रियासती चीफ़ सेक्रेटरी ने सलाह उद्दीन अहमद को 16 मह्कमाजात और ए एन राय को 11 मह्कमाजात अलॉट करते हुए अहकामात जारी किए।

लिहाज़ा उन मह्कमाजात के परंसपाल सेक्रेटरीज़ तमाम फाईलस इन मुशीरों के ज़रीये ही रियासती गवर्नर को रवाना करना होगा। इसी दौरान बताया जाता है कि ए एन राय उन्हें दीए गए चैंबर में अपने फ़राइज़ अंजाम दे रहे हैं।

TOPPOPULARRECENT