Friday , December 15 2017

गवर्नर मग़रिबी बंगाल को बिहार की इज़ाफ़ी ज़िम्मेदारी

पटना बी जे पी लीडर और गवर्नर मग़रिबी बंगाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने बहैसियत गवर्नर बिहार हलफ़ लिया। राज भवन में मुनाक़िदा एक तक़रीब में चीफ जस्टिस पटना हाईकोर्ट रेखा एम दोशट ने त्रिपाठी को ओहदा का हलफ़ दिलवाया ।

पटना

बी जे पी लीडर और गवर्नर मग़रिबी बंगाल केसरी नाथ त्रिपाठी ने बहैसियत गवर्नर बिहार हलफ़ लिया। राज भवन में मुनाक़िदा एक तक़रीब में चीफ जस्टिस पटना हाईकोर्ट रेखा एम दोशट ने त्रिपाठी को ओहदा का हलफ़ दिलवाया ।

पेशरू गवर्नर डाक्टर डी दी पाटल की मीआद कल ख़त्म होगई। जिस के बाइस गवर्नर मग़रिबी बंगाल को बिहार की इज़ाफ़ी ज़िम्मेदारी ( एडीशनल चार्ज ) दी गई है।

तक़रीब हलफ़ बर्दारी में चीफ मिनिस्टर जतिन राम मांझी , स्पीकर असेम्बली ऊदे नारायण चौधरी , अपोज़ीशन लीडर्स असेम्बली‍-ओ‍-काउंसिल नंदकिशोर यादव और सुशील कुमार मोदी और कई वुज़रा और सीनियर‌ ओहदेदार शरीक थे। इलहाबाद में पैदा हुए 80 साला त्रिपाठी माहेर दस्तूर हैं और इलहाबाद हाईकोर्ट में 1956 से 2014 तक वकालत करते रहे।

वो साबिक़ में 1991 और 1997 ता 2002 उत्तरप्रदेश असेम्बली के स्पीकर भी रहे। बादअज़ां मीडिया से बात चीत करते हुए नए गवर्नर ने कहा कि वो अवाम की फ़लाह-ओ-बहबूद के लिये काम करेंगे और जब भी ज़रूरत हो तो हुकूमत को मश्वरा और रहनुमाई करेंगे|

TOPPOPULARRECENT