Sunday , June 24 2018

ग़रीबों को क़र्ज़ की इजराई, बैंकों का तआवुन ज़रूरी

ग़रीबों को मुख़्तलिफ़ किस्म के कारोबार के लिए ख़ुद रोज़गार स्कीमात के लिए बगै़र किसी ज़मानत पर बैंकों की तरफ्से क़र्ज़ मंज़ूर किए जाने चाहीए। यहां आंध्र बैंक के ज़ेरे एहतेमाम मुक़ामी रेवेन्यू गार्डन में मुनाक़िदा एक प्रोग्राम में तर

ग़रीबों को मुख़्तलिफ़ किस्म के कारोबार के लिए ख़ुद रोज़गार स्कीमात के लिए बगै़र किसी ज़मानत पर बैंकों की तरफ्से क़र्ज़ मंज़ूर किए जाने चाहीए। यहां आंध्र बैंक के ज़ेरे एहतेमाम मुक़ामी रेवेन्यू गार्डन में मुनाक़िदा एक प्रोग्राम में तर्जीह तलब शोबा जात के लिए क़र्ज़ाजात की तक़सीम पर बहैसीयत मेहमान ख़ुसूसी ख़िताब करते हुए ज़िला कलेक्टर नीतू कुमार प्रसाद ने इन ख़्यालात का इज़हार किया।

उन्होंने कहा कि बैंकों के क़र्ज़ इजराई में तआवुन के सबब कई शेवा शक्ति संघमों से जुड़े ख़वातीन के माली मौक़िफ़ में बेहतरी आई है। उन्होंने कहा कि बैंकों की तरफ से ग़रीबों, ज़रूरतमंदों को बगै़र किसी ज़मानत उन्हें दरकार क़र्ज़ दिया जाये तो सद फ़ीसद तरक़्क़ी मुम्किन है।

उन्होंने कहा कि ज़िला में मौजूद अठारह ख़ानगी बैंक हुकूमत के सरकारी स्कीमात प्रोग्रामों में अहम किरदार अदा कररहे हैं जबकि आंध्र बैंक सरकारी स्कीमात की ग्रांऊडिंग सफ़ अव्वल पर है।उन्होंने अवाम जनधन योजना स्कीम के तहत बैंक में खाता खोलने का मश्वरह दिया।

इस मौके पर शेवा शक्ति संघमों को ट्रैक्टर्स हवाले किए गए और ज़रई आलात मशीनें वग़ैरा भी तक़सीम किए गए। इस मौके पर डी आर डी ए पी डी अरूना, जे डी चतरो, नायक, चंद्रशेखर-ओ-दुसरे मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT