Wednesday , December 13 2017

गांधी जी का चश्‍मा लगाकर फोटो खिंचवाते हैं मोदी : नीतीश कुमार

वाराणसी : बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने नेशनल इंटर कॉलेज में संघ मुक्‍त भक्‍त, शराब मुक्‍त समाज का नारा दिया। लोगों को खिताब करते हुए कहा कि जेएनयू और हैदराबाद के रोहित वेमुला मामले में बीजेपी ने जवाब क्‍यों नहीं दिया। कहा कि बीजेपी यूनिवर्सिटीज 200 फीट ऊंचा तिरंगा फहराने की बात करती है। बीजेपी तिरंगे की नहीं, भगवे की हिमायती हैै। मुल्क़ में बीजेपी गुजरात की तरह सभी प्रदेशों में शराब बैन नहीं करती है। नीतीश ने ये भी कहा कि मोदी स्‍वच्‍छता अभियान के नाम पर गांधी जी का चश्‍मा लगवाकर फोटो खिंचवाते है।
उनकी इस्तक़बाल के लिए कार्यकर्ताओं ने काशी शहर को पोस्‍टर्स से पाट दिया है। पोस्‍टर में लिखा है, अब दिल्ली में सरकार हो, नेता नीतीश कुमार हो समाजवाद की धार हो, तब भारत की जय-जयकार हो।

इससे पहले राज्यसभा सांसद और जनता दल (यू) के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अली अनवर अंसारी ने सर्किट हाउस में कहा कि काशी पीएम नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है, जहां से 2017 इलेक्शन की तैयारियों का आगाज नीतीश कुमार करेंगे। संघ मुक्त भारत का नारा देकर नीतीश कुमार भारत के करोड़ो अमन और भाईचारा पसंद अवाम की आंखों का तारा बन गए हैं। गुरुवार को इसी का बिगुल फुंकने वो काशी आ रहे हैं।
बीजेपी नहीं, आरएसएस चलाती है सरकार
अली अनवर ने इलज़ाम लगते हुए कहा कि बीजेपी एक ऐसी पार्टी है, जो अपने फैसले खुद नहीं करती। इसके फैसले पार्टी से लेकर सरकार तक आरएसएस करती है। मोदी सरकार आरएसएस के रिमोट से चल रहा है। आरएसएस मुल्क़ के इतिहास को बदलना चाहती है। शिक्षा का भगवाकरण करना चाहती है। हैदराबाद, बीएचयू, जेएनयू और इलाहाबाद यूनिवर्सिटी के वाइसचांसलर गुंडे हैं। इनसे स्टूडेंट्स परेशासन हैं।
मोदी ने जनता को दिखाया सिर्फ सब्‍जबाग
मोदी के आने के बाद समस्याएं बढ़ी हैं। उन्‍होंने किसानों, बुनकरों और नौजवानों को केवल सब्जबाग दिखाया है।
चुनाव के पहले कालेधन पर काफी हो हल्ला मचाया, लेकिन अब कोई नाम तक नहीं ले रहा है। मोदी सरकार हिटलर की राह पर चल रही है। कन्हैया बहुत बेहतर है, वो बिहार का बेटा है। बीजेपी को छोड़ हम सभी अमन पसंद लोगों के साथ गठबंधन करेंगे।

उन्‍होंने कहा कि ओवैसी और आदित्यनाथ एक ही सिक्के के दो पहलु हैं।

TOPPOPULARRECENT