Thursday , August 16 2018

गांधी मैदान में उड़ता मिला ड्रोन, दो लोग हिरासत में

भाजपा के क़ौमी सदर अमित शाह की रैली से पहले इतवार को पटना के गांधी मैदान में ड्रोन मिलने के बाद पटना पुलिस सरगर्म हो गई है। 14 अप्रैल को यहां शाह की रैली होनी है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है। पटना सीआईडी के साथ प

भाजपा के क़ौमी सदर अमित शाह की रैली से पहले इतवार को पटना के गांधी मैदान में ड्रोन मिलने के बाद पटना पुलिस सरगर्म हो गई है। 14 अप्रैल को यहां शाह की रैली होनी है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में लिया है। पटना सीआईडी के साथ पुलिस टीम ने हिरासत में लिए गए लोगों से पूछताछ शुरू कर दी है। बता दें कि कुछ दिन पहले पटना के ही एक रिहाइशी इलाके में फ्लैट के अंदर बम बनाते वक्त धमाके हुए थे। पुलिस को इस मामले में बाद में पता चला कि ये बम अमित शाह की रैली में धमाका करने के मकसद से बनाए जा रहे थे, लेकिन ये वक़्त से पहले फट गए। मुल्ज़िम जाये हादसा से भागने में कामयाब रहे थे। गांधी मैदान वही जगह है, जहां लोकसभा इंतिखाबी तशहीर के दौरान मोदी की रैली में धमाका हुए थे।

ड्रोन मिलने की इत्तिला पर पटना के एसएसपी समेत बड़ी तादाद में पुलिसवाले जाये हादसा पर पहुंच गए। पुलिस को पहले जानकारी मिली कि इतवार को इस मैदान पर मुनक्कीद निषाद रैली के आयोजकों ने यह ड्रोन उड़ाया है। हालांकि, आयोजकों की तरफ से इनकार करने के बाद पटना पुलिस ने नए सिरे से मामले की जांच शुरू की। पुलिस इस मामले की जांच को कुछ दिन पहले हुए धमाकों की वाकिया से जोड़कर देख रही है। पटना के एसएसपी जितेंद्र राणा ने बताया कि इतवार को गांधी मैदान में ड्रोन के सहारे वीडियोग्राफी की जा रही थी। इस वजह से इसे उड़ा रहे दोनों नौजवान को हिरासत में लिया गया है। एसएसपी के मुताबिक, ड्रोन उड़ाने के पहले मरकज़ी दाखला वज़ीर के हुक्म की जरूरत होती है, जो इनके पास नहीं था।

TOPPOPULARRECENT