Thursday , December 14 2017

गायों के बाद बकरी और मुर्गी का भी आधार कार्ड बनवायेगी मोदी सरकार- ममता बनर्जी

मालदा। आधार कार्ड को सरकार और सुप्रीम कोर्ट के बीच चल रही खींचतान के बीच मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला। गुरुवार दोपहर को डीएसए मैदान में विभिन्न सरकारी योजनाओं के सामूहिक शिलान्यास व उदघाटन कार्यक्रम के दौरान अपने संबोधन में मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे हालात बनाये जा रहे हैं कि अब दिल धड़कने के लिए आधार कार्ड चाहिए।

सुबह से लेकर रात तक सामने आधार कार्ड लटकाकर रखने से ही सब हो जायेगा। किसी को खाने की जरूरत नहीं होगी, आधार कार्ड से ही पेट भर जायेगा। ऐसा लग रहा है कि लिपिस्टिक और काजल के लिए आधार कार्ड लगेगा। सुबह नींद खुलते ही आधार कार्ड को प्रणाम कीजिए। बोल रहे हैं कि गाय का आधारा कार्ड बनायेंगे। इसके बाद बकरी और मुरगी के लिए भी आधार कार्ड चाहिए होगा।

असल में यह सब मूल समस्याओं से ध्यान हटाने की कोशिश है। एक स्थानीय भाजपा नेता की टिप्पणी पर प्रहार करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, मेरे जन्म पर सवाल उठाये जा रहे हैं। मेरे माता-पिता पर सवाल उठाये जा रहे हैं. मेरी जन्मभूमि को लेकर सवाल किया जा रहा है। यहां तक मुझे पुरी मंदिर में घुसने से रोकने की कोशिश की गयी। यह नहीं भूलें कि मैं चंडीपाठ करती हूं. घर में कालीपूजा करती हूं। धर्म हम भी जानते हैं. बंगाल की माटी ही मेरी धर्मभूमि है।

भाजपा पर हमले को और तेज करते हुए उन्होंने आगे कहा कि तृणमूल के एक नेता के जेल जाने पर भाजपा के बहुत से नेताओं को जेल जाना होगा। बच्चों की तस्करी में छुप-छुप कर किसने क्या-क्या किया है, सब रिकॉर्ड है। जरूरत पड़ी तो सबकी फाइल खुलेगी। ओड़िशा की यात्रा के दौरान वहां के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से नहीं मिलने के लिए मुझे डराया गया। मैंने चुनौती देते हुए कहा कि आप लोग मेरा गला काट सकते हैं, लेकिन किसी से मिलने का शिष्टाचार पूरा करने से नहीं रोक सकते।

TOPPOPULARRECENT