Saturday , December 16 2017

गाय के बहाने बड़े जानवरों की मुंतक़ली में रुकावटों की शिकायत

बड़े जानवरों के ख़िलाफ़ शरपसंद अनासिर की साज़िश और पुलिस मसले की मुबय्यना ख़ामोशी-ओ-हरासानी के ख़िलाफ़ जमईयत उल-क़ुरैश ने अपना एहतेजाज दर्ज करवाया है।

बड़े जानवरों के ख़िलाफ़ शरपसंद अनासिर की साज़िश और पुलिस मसले की मुबय्यना ख़ामोशी-ओ-हरासानी के ख़िलाफ़ जमईयत उल-क़ुरैश ने अपना एहतेजाज दर्ज करवाया है।

कुल हिंद जमईयत उल-क़ुरैश हैदराबाद के वफ़द ने चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना और डायरेक्टर जनरल आफ़ पुलिस तेलंगाना से मुलाक़ात की और गाय के नाम पर बड़े जानवरों और ताजरीन के ख़िलाफ़ जारी हरासानी की शिकायत की।

सदर हैदराबाद मुहम्मद सलीम रुकन क़ानूनसाज़ कौंसिल की ज़ेरे सदारत वफ़द ने अपनी याददाश्त पेश की और बताया कि गाय के नाम पर हरासानी की जा रही है जबकि गाय को नहीं बल्कि बैल और भैंसों को मुंतक़िल किया जा रहा है। सरकारी अहकामात और पुलिस के रहनुमायाना ख़ुतूत को जारी करने के बाद गाय की मुंतक़ली पर मुकम्मिल पाबंदी आइद है और कोई भी ताजिर या फ़रद गाय को मुंतक़िल नहीं कररहा है और ना ही ख़रीद रहा है।

बावजूद इस के तेलंगाना के सरहदी अज़ला और शहर आने वाले रास्तों पर शरपसंद अनासिर बड़े जानवरों को मुंतक़िल करनेवाली गाड़ीयों को रोक रहे हैं और ताजरीन को हरासाँ कररहे हैं जबकि पुलिस इन शरपसंद अनासिर की मददगार बनी हुई है।

मुहम्मद सलीम रुकन क़ानूनसाज़ कौंसिल ने अपने बयान में अफ़सोस काइज़हार किया और बताया कि इस तरह हरासाँयों के ख़िलाफ़ उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर के चंद्रशेखर राव‌ से नुमाइंदगी की मुहम्मद सलीम के मुताबिक़ चीफ़ मिनिस्टर के चंद्रशेखर राव‌ ने डायरेक्टर जनरल आफ़ पुलिस अनुराग शर्मा को हिदायत दी और कहा कि बड़े जानवरों को जिस में गाय शामिल नहीं है उनकी मुंतक़ली में कोई रुकावट पेश नहीं आनी चाहीए।

चूँकि ये ईद का मुआमला है लिहाज़ा अक़लियतों को कोई परेशानी ना हो जिस के बाद जमईयत उल-क़ुरैश के वफ़द ने डी जी पी के दफ़्तर पहोनचकर उन से मुलाक़ात की और सरहदी अज़ला पर मुश्तमिल आरही मुश्किलात का तज़किरा किया और तफ़सीलात बताई।

मुहम्मद सलीम ने बताया कि उनकी नुमाइंदगी पर डी जी पी तेलंगाना ने अज़ला खम्मम वर्ंगल नलगेंडा के ज़िला सुपरिन्टेन्डेन्ट आफ़ पुलिस के अलावा हैदराबाद के अतराफ़ भी चैकपोस्ट पर ज़्यादती को रोकने के अहकामात जारी किए। इस वफ़द में जनरल सेक्रेटरी मुहम्मद मुनीर , फ़रीद क़ुरैशी , उसमान अलहाजरी , मुहम्मद महबूब अली के अलावा दुसरे मौजूद थे।

TOPPOPULARRECENT