गिरानी भत्ता 90 फ़ीसद

गिरानी भत्ता 90 फ़ीसद
मर्कज़ी काबीना मौजूदा गिरानी अलाव नस 80 फ़ीसद में इज़ाफ़ा करते हुए 90 फ़ीसद करने का फ़ैसला कर सकती है ।

मर्कज़ी काबीना मौजूदा गिरानी अलाव नस 80 फ़ीसद में इज़ाफ़ा करते हुए 90 फ़ीसद करने का फ़ैसला कर सकती है ।

इस इक़दाम से तक़रीबन 50 लाख मर्कज़ी मुलाज़िमीन और 30 लाख वज़ीफ़ा याबों को फ़ायदा होगा। मर्कज़ी काबीना में इस मौज़ू पर 20 सितंबर को फ़ैसला होगा। काबीना ने गिरानी भत्ते में इज़ाफ़े की तजवीज़ पर ग़ौर करने के लिए इजलास तलब किया है। ये इज़ाफ़ा इस साल के एक जुलाई से होगा।

ज़राए के मुताबिक़ गिरानी भत्ते को 80 फ़ीसद से बढ़ा कर 90 फ़ीसद करदेने से सरकारी ख़ज़ाना पर सालाना इज़ाफ़ी 10,879 करोड़ रुपये का बोझ आइद होगा और गिरानी भत्ते में इस इज़ाफ़े से 2013-14 के दौरान सरकारी ख़ज़ाने पर 6,297 करोड़ का ज़ाइद बोझ होगा। 3 साल के वक़्फ़े के बाद गिरानी भत्ते में दो अददी इज़ाफ़ा होगा।

गुज़िश्ता सितंबर 2010 को इज़ाफ़ा हुआ था। हुकूमत ने 10 फ़ीसद गिरानी भत्ते में इज़ाफ़े का ऐलान किया था जिस का इतलाक़ एक जुलाई 2010 से हुआ था। अप्रैल 2013 में 72 फ़ीसद से 80 फ़ीसद का इज़ाफ़ा हुआ था।

Top Stories