Tuesday , June 19 2018

गीतांजलि एक्सप्रेस में फौजी ने खातून से की छेड़छाड़

हावड़ा-मुंबई गीतांजलि एक्सप्रेस के एसी कोच में एक खातून मुसाफिर से छेड़खानी का मामला सामने आया है। मुल्ज़िम नशे में धुत एक फैजी पर लगा है, जो रिटाइर्ड फौजी की तरफ से होकर उसे ट्रेन से अपने घर लौट रहा था।

हावड़ा-मुंबई गीतांजलि एक्सप्रेस के एसी कोच में एक खातून मुसाफिर से छेड़खानी का मामला सामने आया है। मुल्ज़िम नशे में धुत एक फैजी पर लगा है, जो रिटाइर्ड फौजी की तरफ से होकर उसे ट्रेन से अपने घर लौट रहा था।

वाकिया चलती ट्रेन में खड़गपुर स्टेशन के बाद ही है। खातून के अहले खाना के अलावा दीगर मुसाफिर ने मुल्ज़िम की पिटाई भी की है। छेड़छाड़ की इत्तिला ट्रेन के टीटीई ने टाटानगर स्टेशन पर भेजी थी इसलिए ट्रेन के टाटानगर आने से पहले ही आरपीएफ और जीआरपी के ओहदेदार प्लेटफॉर्म नंबर तीन पर मौजूद थे। ट्रेन रुकते ही रिटाइर्ड फौजी को जीआरपी व आरपीएफ के जवानों ने ट्रेन से उतार लिया। वह नशे में लड़खड़ा रहा था। मुल्ज़िम से प्लेटफॉर्म पर पूछताछ की जा रही थी तभी मुसाफिरों का गुस्सा एक बार फिर से भड़क उठा, लेकिन सेक्युर्टी जवानों ने उसे बचा लिया। इस हंगामे की वजह से तय वक़्त से आई ट्रेन को दस मिनट से ज्यादा वक़्त तक यहां रुकना पड़ा है।

जीआरपीटाटानगर रेल थाना इंचार्ज अशोक कुमार के मुताबिक ट्रेन में रिटाइर्ड फौजी ने खातून से छेड़छाड़ नहीं की है। उसे नशे में देखकर ही मुसाफिरों ने बचाव में यह इत्तिला दी थी। इससे रिटाइर्ड फौजी को ट्रेन से उतारा जा सके। उन्होंने फौजी से मुसाफिरों की तरफ से मारपीट करने से भी इनकार किया है। थाना इंचार्ज ने बताया कि फौजी को ट्रेन से उतार लिया गया है। नशा उतरने पर ही उसे दूसरी ट्रेन से नागपुर भेजा जाएगा।

TOPPOPULARRECENT