Tuesday , December 12 2017

गुंडागर्दी : भाजपा कारकुनान ने पूरे खानदान को जिंदा जला देने की दी धमकी

एसेम्बली जिमनी इंतिख़ाब के नॉमिनेशन खत्म के बाद सनीचर की देर शाम भाजपा कारकुनान की गुंडागर्दी सामने आ गई। कारकुनान ने अपनी बेरहमी की हद पार करते हुए खातून के न सिर्फ कपड़े फाड़े, बल्कि मासूम बच्चों को पटक कर बेहोश कर दिया। इतना ही

एसेम्बली जिमनी इंतिख़ाब के नॉमिनेशन खत्म के बाद सनीचर की देर शाम भाजपा कारकुनान की गुंडागर्दी सामने आ गई। कारकुनान ने अपनी बेरहमी की हद पार करते हुए खातून के न सिर्फ कपड़े फाड़े, बल्कि मासूम बच्चों को पटक कर बेहोश कर दिया। इतना ही नहीं, पूरे खानदान को एक कमरे में बंद कर दिया और जिंदा जलाने की धमकी भी दी। भाजपा कारकुनान ने यह वाकिया शहर के इंतेहाई मसरूफ़ रास्ता आरपी रोड वाकेय मारवाड़ी पाठशाला के नजदीक भागवान साह बाजार के पहले तल्ले पर अंजाम दिया।

यरगमाल बनाए जाने की इत्तिला मौके पर पहुंची कोतवाली पुलिस ने ताला काट कर खातून और बच्चों को आजाद कराया। वाकिया के वक्त घर के मर्द बाहर थे। इधर, वाकिया के मुखालिफत में अहले खाना के साथ ख़वातीन ने भगवान साह बाजार के सामने सड़क जाम कर दिया और जगह-जगह टायर जला कर मुजाहिरा किया। मामले में मकान मालिक ध्रुव उर्फ डब्लू साह ने भाजपा के कई सीनियर कारकुनान को नामजद मुल्ज़िम बनाते हुए थाने में सनाह दर्ज कराई है। भाजपा ने साजिश करार देते हुए दफ्तर का सामान लूटने का इल्ज़ाम लगाया है।

क्या है तनाजे की जड़

डब्लू साह ने पुलिस को बताया कि उसके दादा भगवान साह ने अपने घर के पहले तल्ले पर भाजपा को दस साल पहले दफ्तर खोलने के लिए दिया था। डब्लू ने बताया कि शाम को अचानक दर्जनों कारकुनान आ धमके और खाली करने को कहने लगे। सामान फेंक दिया। खातून का कपड़ा फाड़ दिया और मासूम बच्चों को पटक दिया, जिससे दो बच्चे बेहोश हो गए। इसके बाद कमरे के ग्रिल में ताला लगा कर जिंदा जलाने की धमकी देकर चले गए। इसके बाद कोतवाली पुलिस पहुंच गई।

भाजपा की दलील

वाकिया के बाद से भाजपा के कारकुनान का मोबाइल स्विच ऑफ हो गया। पार्टी लीडर विष्णु शर्मा ने बताया कि वह वाकिया के वक्त नहीं था। निरंजन साह ने कहा कि मेरे चचेरे भाई की जगह है। अच्छे ताल्लुक़ात की बुनियाद पर यह दफ्तर के लिए मिली थी। दफ्तर को हटाया नहीं गया था, लेकिन श्राद्ध करने के लिए बीस दिन पहले दफ्तर की चाबी दी गई थी। दोपहर को देवन पांडेय लेटर हेड लाने गए थे। साजिशन उसके साथ बेइज़्ज़ती किया। मारपीट कर भगा दिया और दफ्तर का समान भी लूट लिया।

TOPPOPULARRECENT