Friday , January 19 2018

गुंडे बने फिर रहे गौरक्षक आरएसएस की ही देन हैं: समता सैनिक दल

महाराष्ट्र: नागपुर में समता सैनिक दल की तरफ से आयोजित आर्थिक और सामाजिक न्याय हक परिषद के समारोह में हजारों की संख्या में लोग इक्टठ्ठे हुए जिसमें महिला विंग की महिलाएं, बौद्ध भिक्षु, और ऊना कांड के पीड़ित भी शामिल हुए। इस समारोह में सभी ने यही बात सामने रखी कि डॉ. अम्बेडकर और बाबू कांशीराम के अधूरे मिशन को पूरा करने के लिए सबको साथ मिलकर लड़ने की बात कहीं।

 सामजिक एकता एवं जागृति मिशन के संयोजक केवल सिंह राठोड़ दलितों पर भगवा आतंकियों के बढ़ रहे अत्याचारों की बात करते हुए गुजरात में हुए उनाकांड के लिए प्रधानमंत्री मोदी और उनकी सरकार जिम्मेंदार ठहराया।  उन्होंने कहा कि आरएसएस संगठन दूसरे आतंकी संगठन ISIS  और लश्कर-ए-तोएबा  से भी खतरनाक है। देश में बढ़ रहे गौरक्षक उन्हीं की देन हैं और उन्हें देश में उत्पात फैलाने की ट्रेनिग आरएसएस से ही मिलती हैं। ऐसे असामाजिक संगठनो पर सरकार भी चुप बैठकर तमाशा देख रही है। आने वाले वक़्त में अगर सरकार ऐसे संगठनों पर रोक नहीं लगाती तो उसका आंदोलन होगा।

TOPPOPULARRECENT