Thursday , April 26 2018

गुजरात की वो सीटें जहां जीत का अंतर 1000 से भी कम रहा, 10 और सीटें मिल सकती थी कांग्रेस को!

अहमदाबाद/शिमला : गुजरात और हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनावों में भाजपा को जीत मिली है। दोनों ही राज्यों में बीजेपी को स्पष्ट बहुमत मिला है लेकिन इन राज्यों में कई ऐसी सीटें रहीं जहां भाजपा और कांग्रेस के बीच कांटे का मुकाबला रहा। हिमाचल और गुजरात में कई सीटों पर जीत का अंतर 1000 या 500 से भी कम का रहा है।

गुजरात में बीजेपी और कांग्रेस के बीच सीटों का फासला 20 से भी कम रहा. ये गुजरात के रोमांचक चुनावी मैच को बताता है कि एक-एक सीट पर ऐसा कड़ा मुकाबला रहा कि आखिरी वक्त तक कैंडिडेट आगे पीछे होते रहे. गुजरात में 17 सीटें ऐसी रहीं, जहां हार जीत का अंतर 2000 वोट से भी कम रहा है.

2000 वोट से कम अंतर से बीजेपी ने 8 सीटें जीतीं तो 9 कांग्रेस ने जीतीं. गुजरात में 8 सीटें ऐसी रहीं, जहां हार जीत का अंतर 1000 वोट से भी कम रहा है. 1000 वोट से कम अंतर से बीजेपी ने 2 और कांग्रेस ने 6 सीटें जीती हैं. मतलब साफ है जहां काम वोटों से बीजेपी जीती है, वहां कांग्रेस सेंध लगा सकती थी, और कहें तो वो सीट भी कांग्रेस की हो सकतो थी। खैराब अगर अन्य सीटों पर गौर करें तो, गुजरात की कपराड़ा सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार जीतूभाई चौधरी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी और बीजेपी के प्रत्याशी मधुभाई राउत को महज 170 वोटों से हराया। इस सीट पर कांग्रेस प्रत्याशी को कुल 93000 वोट मिले वहीं बीजेपी उम्मीदवार को 92830 वोट हासिल हुए।

देवधर की सीट पर कांग्रेस के प्रत्याशी शिवाभाई भूरिया ने महज 927 वोटों से जीत हासिल की। इस सीट पर बीजेपी के केशाजी चौहान चुनाव हार गए। कांग्रेस के के डांग्स विधानसभा से मंगलभाई गवित ने बीजेपी प्रत्याशी विजयभाई पटेल से 768 वोट अधिक पाकर जीत हासिल की।

गुजरात की ढोलका सीट पर बीजेपी के प्रत्याशी एमबी चूड़ास्मा ने कांग्रेस प्रत्याशी अश्विनभाई राठौड़ को 327 वोटों से पराजित किया है। गोधरा सीट पर बीजेपी के सीके रौलजी ने कांग्रेस के राजिंदर सिंह परमार को 258 वोटों से हराया।
बोटाद में बीजेपी के सौरभ पटेल (दलाल) 906 वोट से जीत गए लेकिन कांग्रेस के कठथीया धीरजलाल माधवजीभाइ (डी।एम।पटेल) ने उन्हें कड़ी टक्कर दी। सौरभ पटेल (दलाल) को 79623 वोट मिले। वहीं कठथीया धीरजलाल को 78717 वोट मिले।

विजापुर सीट पर भारतीय जनता पार्टी ने पटेल रमणभाई धुलाभाई ने कांग्रेस के पटेल नाथाभाई प्रभुदास को 1164 वोट से हराया। विजापुर सीट पर पटेल रमणभाई धुलाभाई को 72326 वोट और पटेल नाथाभाई प्रभुदास को 71162 वोट मिले।

ह‍िमतनगर सीट पर राजेन्द्रसिंह रणजीतसिंह चावड़ा (राजुभाई चावड़ा) ने कांग्रेस के कमलेश कुमार जयंतिभाई पटेल को 1712 वोट से हरा दिया। यहां राजेन्द्रसिंह रणजीतसिंह चावड़ा (राजुभाई चावड़ा) को 94340 वोट और कमलेशकुमार जयंतिभाई पटेल को 92628 वोट मिले।

गारियाधार में भारतीय जनता पार्टी के नाकराणी केशुभाई हिरजीभाई को जीत मिली। यहां जीत का अंतर सिर्फ 1876 वोट रहा। इंडियन नेशनल कांग्रेस के खेनी परेशभाई मनजीभाई के 48759 वोट के मुकाबले भारतीय जनता पार्टी के नाकराणी केशुभाई हिरजीभाई ने 50635 वोट पाकर जीत हासिल की।

उमरेठ पर भारतीय जनता पार्टी के गोंविदभाई रईजीभाई परमार ने कांग्रेस के कपीलाबेन गोपालसिंह चावड़ा को 1883 वोट से हराया। गोंविदभाई रईजीभाई परमार को 68326 वोट मिले, वहीं कांग्रेस के कपीलाबेन गोपालसिंह चावड़ा को 66443 वोट मिले।

भारतीय जनता पार्टी के महेशकुमार कन्हैयालाल रावल (मयूर रावल ) को इस सीट से जीत हासिल हुई। कांग्रेस के पटेल खूशमनभाई शांतिलाल दूसरे नंबर पर रहे। जीत हार का अंतर सिर्फ 2318 वोट का रहा। कांग्रेस को वोट 69141 मिले तो बीजेपी को 71459 वोट मिले।

वागरा के सीट पर भारतीय जनता पार्टी के अरुणसिंह अजीत सिंह रणा ने जीत हासिल की। उन्होंने कांग्रेस के पटेल सुलेमानभाइ मुसाभाइ दूसरे नंबर पर रहे। जीत का अंतर सिर्फ 2628 वोट का रहा। अरुणसिंह अजीत सिंह रणा को 72331 वोट मिले। सुलेमानभाइ मुसाभाइ को 69703 वोट मिले।

राजकोट ग्रामीण में भारतीय जनता पार्टी के लाखाभाई सागठीया को जीत मिली। यहां जीत का अंतर सिर्फ 2179 वोट का रहा। बीजेपी के उम्मीदवार लाखाभाई सागठीया को 92114 वोट मिले। वहीं कांग्रेस के उम्मीदवार वशरामभाई आलाभाई सागठिया को 89935 वोट मिले।

हिमाचल प्रदेश की पांच सीटों पर बीजेपी और कांग्रेस के बीच दिलचस्प मुकाबला देखने को मिला। किन्नूर विधानसभा सीट पर कांग्रेस के उम्मीदवार जगत सिंह नेगी ने अपने निकटतम प्रतिद्वंदी तेजवंत नेगी को सिर्फ 120 वोटों से हराया। जगत सिंह को कुल 20029 वोट मिले जबकि दूसरे स्थान पर रहे तेजवंत को 19909 वोट हासिल हुए।

बरसर में कांग्रेस के विजयी उम्मीदवार इंद्रदत्त लखनपाल ने बीजेपी के बलदेव शर्मा को सिर्फ 439 वोटों से पराजित किया है। डलहौजी सीट पर कांग्रेस की आशा कुमारी बीजेपी प्रत्याशी डीएस ठाकुर से महज 556 वोट अधिक पाकर विजयी हुई। कसौली की सीट पर बीजेपी के राजीव सैजल ने कांग्रेसी उम्मीदवार विनोद सुलतानपुरी को सिर्फ 442 वोटों से हराकर जीत हासिल की।

TOPPOPULARRECENT