Thursday , December 14 2017

गुजरात के उना में दलितों पर अत्याचार को रामविलास पासवान ने छोटी घटना बताया

अहमदाबाद। देश के वरिष्ठ दलित नेता में शुमार केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान का कहना है कि उना में दलितों पर हुआ अत्याचार एक ‘छोटी घटना’ थी।
लोक जनशक्ति पार्टी के प्रमुख पासवान गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी के लिए घर-घर जाकर प्रचार के लिए उतरे है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक, यहां उन्होंने मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा, मैं इतना कहना चाहता हूं कि छोटी-मोटी घटनाएं होती रहती हैं। हमारे बिहार में भी ऐसी घटनाएं होती हैं।

पासवान ने कहा कि गुजरात भारत का केंद्र बिंदु है और उसे गर्व होना चाहिए कि देश के सबसे लोकप्रिय प्रधानमंत्री इस राज्य से है। उना घटना को लेकर पासवान के इस बयान पर राष्ट्रीय दलित अधिकार मंच के संयोजक और राज्य में दलित चेहरे के तौर पर उभर जिग्नेश मेवानी ने आलोचना की है।

उन्होंने इसे ‘शर्मनाक बयान’ करार देते हुए पासवान के इस्तीफे की मांग की है। मेवानी ने कहा, ‘उना में दलितों पर अत्याचार को छोटी घटना बताने वाला पासवान का बयान शर्मनाक और उन दलितों के जख्म पर नमक छिड़कने जैसा है, जिन्हें अधनंगा करके पीटा और शहर में घुमाया गया।

TOPPOPULARRECENT