गुजरात चुनाव के नतीजे मोदी की विश्वसनीयता पर सवाल है- राहुल गांधी

गुजरात चुनाव के नतीजे मोदी की विश्वसनीयता पर सवाल है- राहुल गांधी

नई दिल्ली। गुजरात विधानसभा चुनाव में हार के बाद मंगलवार को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मीडिया से बात की। इस दौरान उन्होंने जहां गुजरात और हिमाचल प्रदेश की जनता का शुक्रिया अदा किया। वहीं गुजरात के नतीजों को कांग्रेस के लिए अच्छा बताया।

राहुल ने गुजरात चुनाव नतीजों को बीजेपी के लिए बड़ा झटका करार दिया। उन्होंने कहा कि मोदी के गुजरात मॉडल को लोग नहीं मानते हैं।

राहुल ने कहा, ‘हमने जो कैंपेन किया उसका वो जवाब नहीं दे पाए। विकास की बात कर रहे हैं पर सच्चाई ये है कि उसका जवाब नहीं दे पाए। चुनाव से पहले उनके पास कहने को कुछ रहा नहीं था।’

राहुल ने गुजरात में हार मिलने के बावजूद रिजल्ट को कांग्रेस पार्टी के लिए अच्छा बताया। उन्होंने कहा, ‘हमारे लिए अच्छा रिजल्ट रहा है। हम जीत सकते थे, लेकिन कमी हो गई।’

राहुल ने कहा कि गुजरात की जनता ने तीन महीने में मुझे बहुत प्यार दिया है। इससे आगे वो बोले कि वहां की जनता ने मुझे ये भी सिखाया है कि जो भी लड़ाई हो, जितना भी गुस्सा हो, धन हो उनको आप प्यार से टक्कर दे सकते हैं।’

बीजेपी की जीत के बावजूद राहुल ने चुनावी नतीजों को उनके लिए संदेश बताया। राहुल ने कहा, ‘गुजरात की जनता ने पीएम मोदी और बीजेपी को संदेश दिया है कि ये जो गुस्सा और क्रोध है, ये आपके काम नहीं आएगा, प्यार इसे हरा देगा।

राहुल ने कहा कि मोदी जी चुनाव नतीजों को जीएसटी पर मुहर बताया, जो कि अजीब सी बात है। उन्होंने कहा कि पीएम के भाषणों में नोटबंदी-जीएसटी की बात नहीं हो रही थी।

राहुल ने इसका उदाहरण देते हुए कहा कि मोदी जी की क्रेडिबिलिटी पर सवाल उठ गया है। उनकी विश्वसनीयता खतरे में है। वो कह रहे हैं कि उनका संगठन, पार्टी रिपीट कर रहा है, पर देश नहीं सुन रहा है।

इस दौरान राहुल ने अमित शाह के बेटे और राफेल का भी जिक्र किया। उन्होंने कहा मोदी जी नॉनस्टॉप भ्रष्टाचार की बात करते थे लेकिन राफेल डील और जय शाह के मामले में उनके मुंह से एक शब्द भी नहीं निकला।

Top Stories