Monday , December 11 2017

गुजरात में बीजेपी को झटका, पाटीदार नेता निखिल ने दिया इस्तीफ़ा

गुजरात में विधानसभा चुनाव की सरगर्मी बढ़ती जा रही है| हर रोज़ गुजरात में कुछ नया सुनने और देखने को मिल रहा| इस पार्टी का उस पार्टी पर हमला या उसका इस पर हमला| इस नेता ने आज ये पार्टी ज्वाइन की उसने आज यहाँ से इस्तीफ़ा दिया इत्यादि| गुजरात चुनाव में इस बार सबसे ज़्यादा भूमिका निभाने वाले पाटीदार को रिझाने के लिए सारी पार्टियाँ एंड़ी चोटी का ज़ोर लगा रही है| उनका किसी न किसी पार्टी का समर्थन देना जीत का सबब बन सकता है|

इसलिए उन पर सबकी नज़र है| इसी बीच पाटीदार नेता निखिल सवानी ने बीजेपी से इस्तीफ़ा दे दिया है| हालाँकि निखिल ने अभी कुछ दिन पहले ही बीजेपी को ज्वाइन किया था| जिससे बीजेपी को जोर का झटका लगना माना जाता है| पाटीदार नेता सवानी पिछले दिनों पाटीदार अनामक आंदोलन समिति के नेता हार्दिक पटेल का साथ छोड़ कर भाजपा में शामिल हो गए थे| लेकिन अब सवानी का कहना है कि बीजेपी सिर्फ हमें बहाने बता रही है हमारे वादों पर टालमटोल कर रही है| इसलिए हमने इस्तीफ़ा दे दिया| पाटीदार आंदोलन के दौरान वह हार्दिक के करीबी थे और आरक्षण आंदोलन समिति में सूरत के संयोजक थे।

मीडिया से बातचीत करते हुए सवानी ने बीजेपी पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी ने उन्हें वरुण पटेल के माध्यम से उसमें शामिल होने पर एक करोड़ रुपये देने का वादा किया था। इस बात से मैं बहुत दुखी हूँ| मुझे ख़रीदने की कोशिश की गयी| इसलिए मैं बीजेपी छोड़ रहा हूँ| हालांकि बीजेपी ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है। पाटीदार नेता निखिल ने कहा की हम समाज के हित के लिए बीजेपी से जुड़े थे| लेकिन बीजेपी पाटीदारों को ख़रीदने और उन्हें तोड़ने की कोशिश कर रही है उन्होंने यह भी कहा कि हमारा हार्दिक पटेल से मतभेद है, मनभेद नहीं है।

निखिल ने बीजेपी पर आरोप लगते हुए कहा कि ‘मैं जिस उम्मीद के साथ बीजेपी में शामिल हुए था वह पूरा नहीं हुआ। बीजेपी को केवल चुनाव के समय ही पाटीदारों की याद आती है। मुझसे किया गया वादा बीजेपी ने पूरा नहीं किया।

 

शरीफ़ उल्लाह

TOPPOPULARRECENT