Friday , June 22 2018

गुजरात में 2जज रिश्वत हासिल करने पर गिरफ़्तार

अहमदाबाद वलसाड: गुजरात हाईकोर्ट के वीजलेंस सेल ने आज क़ानून इंसिदाद रिश्वत सतानी के तहत 2जजों को गिरफ़्तार कर लिया जिन्हें गुज़िशता माह 2014 में वापीकोर्ट में ख़िदमात के दौरान बाज़ मुक़द्दमात की यकसूई के लिए रिश्वत हासिल करने के इल्ज़ाम में मुअत्तल कर दिया गया था।

जज ए डी आचार्य और पी डी इनामदार को मुक़द्दमे की यकसूई के लिए जांबदारी बरतने के लिए बातचीत करते हुए कैमरे में क़ैद कर लिया गया था उन्हें आज वलसाद कोर्ट ने 14यौम के लिए अदालती तहवील में दे दिया है। रजिस्ट्रार जनरल हाईकोर्ट बी एन कृपा के बमूजब वीजलेंस सेल ने बाद तहक़ीक़ात रिश्वत सतानी केस में एक एफ़ आई आर दर्ज किया है जबकि वापी के एक ऐडवोकेट जगत पाटेल ने ये शिकायत की थी कि मज़कूरा जजस रिश्वत लेकर फ़ैसला सादर कर रहे हैं।

उन्होंने अदालत के कमरे में एक खु़फ़ीया कैमरा नसब किया था जिसमें फ़रव‌री ता अप्रैल 2014 के दौरान उनकी सरगर्मीयों की फ़िल्मबंदी करली गई थी। इस फ़िल्म में देखा गया कि ये जजस वुकला के टेलीफ़ोन पर जांबदाराना फ़ैसला सादर करने के लिए रुकमी माम‌लत की बातचीत कर रहे हैं।

वीजलेंस सेल ने तहक़ीक़ात में ये भी इन्किशाफ़ किया कि इन जजों ने अदालत के रेकॉर्ड्स को तबदील करते हुए जाली दस्तावेज़ात को असली साबित करने के लिए फ़ैसले सुनाए हैं जिसके बाद हाईकोर्ट ने गुज़िश्ता माह उन्हें ख़िदमात से मुअत्तल कर दिया था जबकि दीगर 10अफ़राद बिशमोल एक क्लर्क बी जी प्रजापति और 8वुकला के ख़िलाफ़ एफ़ आई आर दर्ज किया गया।

TOPPOPULARRECENT