Tuesday , December 12 2017

गुजरात राज्यसभा चुनाव पर देश भर की नज़र, अहमद पटेल साख दाव पर

गांधीनगर। प्रधानमंत्री नरेंंद्र मोदी के गृह राज्य गुजरात में जबरदस्त राजनीतिक गहमागहमी के बीच सत्तारूढ भाजपा और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के लिए प्रतिष्ठा का बड़ा प्रश्न बन गई राज्यसभा की तीन सीटों के लिए आज मतदान होगा।

दो सदस्यों वाली राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी ने अपने पहले के रूख को बदलते हुए भाजपा को समर्थन की घोषणा की है जबकि पार्टी के बागी विधायक नलिन कोटडिया के भी तेवर नरम पड़ते दिख रहे हैं।

राज्यसभा की तीन सीटों के लिए होने वाले मतदान में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह और सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल, दोनों की साख दांव पर लगी है।

वैसे तो अमित शाह खुद भी चुनाव लड़ रहे हैं। लेकिन, उनका और केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का चुनाव जीतना तय है। इस चुनाव के जरिये भाजपा अध्यक्ष पहली बार संसद पहुंच रहे हैं।

भाजपा ने तीसरी सीट के लिए अहमद पटेल के खिलाफ कांग्रेस के ही बागी नेता बलवंत सिंह राजपूत को उतारकर चुनाव को रोमांचक बना दिया है। गुजरात में लगभग दो दशक बाद राज्यसभा चुनाव के लिए मतदान हो रहा है।

भाजपा पर विधायकों की खरीद-फरोख्त का आरोप लगाते हुए अपने 44 विधायकों को गुजरात से बेंगलुरु भेज दिया जो कि सोमवार को ही वापिस लौटे हैं।

गुजरात से लौटे कांग्रेस विधायकों को आणंद के निजानंद रिजॉर्ट में रखा गया। विधायकों को आज गांधीनगर ले जाया जा रहा है, जहां वोटिंग होनी है।

कांग्रेस उम्मीदवार अहमद पटेल ने सोमवार को दावा किया कि जीत के लिए उन्हें पर्याप्त संख्या में विधायकों का समर्थन हासिल है, जिनमें राकांपा और जेडीयू के विधायक भी शामिल हैं।

TOPPOPULARRECENT