Saturday , June 23 2018

गुजरात लोक आयवकत मसला पर पार्लीमैंट में हंगामा

गवर्नर कमला की बाज़ तलबी केलिए बी जे पी का पुरशोर मुतालिबा, कार्रवाई कई मर्तबा मुल्तवी

गवर्नर कमला की बाज़ तलबी केलिए बी जे पी का पुरशोर मुतालिबा, कार्रवाई कई मर्तबा मुल्तवी
नई दिल्ली 2 सितंबर (पी टी आई) गुजरात लोक आयवकत तक़र्रुर के मसला पर पार्लीमैंट में आज ज़बरदस्त हंगामा हुआ। अप्पोज़ीशन बी जे पी ने एहतिजाज करते हुए पार्लीमैंट के दोनों ऐवानों को कई मर्तबा मुल्तवी करने पर मजबूर किया। बी जे पी ने मुतालिबा किया कि लोक आयवकत का तक़र्रुर करने गवर्नर कमला बनीवल का फ़ैसला आमिराना हरकत है। गवर्नर को फ़ौरी तलब करलिया जाना चाहीए। लोकतंत्र में तानाशाही नहीं चलेगी, दस्तूर की ख़िलाफ़वरज़ी नहीं चलेगी जैसे नारे लगाते हुए बी जे पी अरकान लोक सभा और राज्य सभा के वस्त में पहूंच गए और एहतिजाज किया। गवर्नर की कार्रवाई पर एहतिजाज करते हुए बी जे पी अरकान ने राज पाल को वापिस बुलाओ, लोक आयवकत का नोटीफ़िकेशन वापिस लो जैसे नारे भी लगाए। राज्य सभा में सुबह की कार्रवाई का आग़ाज़ होते ही गड़बड़ शुरू होगई जिस की वजह से इबतदा-ए-में कार्रवाई को 15 मिनट के लिए मुल्तवी किया गया। जब दुबारा कार्रवाई शुरू हुई तो शोर-ओ-गुल के पेशे नज़र दोपहर 2 बजकर 30 मिनट तक कार्रवाई फिर एक बार मुल्तवी की गई। लोक सभा में वकफ़ा-ए-सवालात पुरसुकून अंदाज़ में जारी थे लेकिन वक़फ़ा सिफ़र के दौरान गड़बड़ शुरू हुई। कुर्सी-ए-सदारत पर मौजूद ऐम थमबी दौराई ने अप्पोज़ीशन के शोर-ओ-गुल के बाइस कार्रवाई को 2 बजे तक मुल्तवी किया। ऐवान की दिन भर की कार्रवाई केलिए काग़ज़ात पेश करते हुए तहरीक तवज्जा दहानी की भी इजाज़त दी गई लेकिन बी जे पी अरकान की गड़बड़ की वजह से कोई काम काज नहीं होसका। 2 बजे के बाद जब कार्रवाई शुरू हुई ऐवान में दुबारा शोर-ओ-गुल देखा गया। बी जे पी अरकान ऐवान के वस्त में पहूंच कर नारे लगा रहे थे। जिस की वजह से तक़रीबन 2 घंटे ऐवान की कार्रवाई को मुल्तवी करना पड़ा। बाअज़ समाजवादी पार्टी अरकान भी ऐवान के वस्त में पहूंच गए जिन की ताईद आर जे डी ओमा शंकर भी कररहे थे। वो भी बिहार में उन के मकान पर हालिया हमला के पेशे नज़र सैक्योरिटी का मुतालिबा करते हुए एहतिजाज कररहे थे, इस हमला में 4 अफ़राद हलाक हुए थे। राज्य सभा में भी कोई काम काज नहीं होसका। वकफ़ा-ए-सवालात और वक़फ़ा सिफ़र के दौरान बी जे पी मुसलसल एहतिजाज कररही थी। जिस की वजह से बार बार ऐवान की कार्रवाई मुल्तवी की गई। वज़ीर-ए-दाख़िला पी चिदम़्बरम ने शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के इंतिख़ाबात से मुताल्लिक़ मसला पर ब्यान दिया तो बी जे पी अरकान ऐवान के वस्त में पहूंच गए और गवर्नर गुजरात की बाज़ तलबी का मुतालिबा करते हुए नारे लगाए। जबकि चेयरमैन हामिद अंसारी वकफ़ा-ए-सवालात की इजाज़त देते हुए एहितजाजी अरकान को पुरसुकून रहने की हिदायत दे रहे थे। लेकिन जब उन की हिदायत रायगां गई तो कार्रवाई 15 मिनट के लिए मुल्तवी की गई। दुबारा कार्रवाई के आग़ाज़ पर भी यही सूरत-ए-हाल देखी गई। कांग्रेस के वे हनुमंत राउ ने दीगर पार्टी रफ़क़ा के साथ एहतिजाज करते हुए कहाकि पार्लीमैंट का अपमान नहीं चलेगा, नारे लगाए। शोर-ओ-गुल के दौरान कुर्सी-ए-सदारत ने ऐवान की कार्रवाई को मुल्तवी करदिया

TOPPOPULARRECENT