Friday , December 15 2017

गुजरात: व्यापारी के दफ्तर से करोड़ों का कैश और जमीन के कागजात बरामद

सूरत: केंद्र सरकार का 8 नवंबर को नोटबंदी के फैसले के बाद, आयकर विभाग, प्रवर्तन निदेशालय (ED) और केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) देश के तमाम जगहों पर लगातार छापेमारी कर काले धन का खुलासा कर रहे हैं.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

वन इंडिया के अनुसार, ताजा मामला, गुजरात का है, जहां सूरत में एक फाइनेंसर किशोर भजियावाला के परिसर में आयकर विभाग ने छापे मारी की. छापेमारी की कार्रवाई के दौरान विभाग को 400 करोड़ रुपए नकद, आभूषण और प्रॉपर्टी के कागजात भी बरामद हुए हैं.

इससे पूर्व में भी मुंबई में कार्यरत रेलवे के असिस्टेंट कमर्शियल मैनेजर को नोटों की अदला-बदली के आरोप में CBI ने नामजद किया है. आरोप है कि उसने 8.22 लाख रुपये के पुराने नोटों को 2000 रुपये के नए नोटों से बदला है.
वहीँ कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरू में CBI ने भारतीय रिजर्व बैंक के दो अधिकारियों को गिरफ्तार किया है. उन पर आरोप है कि वो गैर कानूनी ढंग से कैश बदल रहा था.
दोनों अफसरों ने 500 और 1,000 के विमुद्रीकृत किए करेंसी नोट को बड़ी मात्रा में नई करेंसी से एक्सचेंज किया है.
गौरतलब है कि सरकार द्वारा अपनाये गये इतने तरह के हथकंडे अभी तक नाकाम ही साबित हुआ है क्योंकि मौजूदा हालात से नहीं लग रहा है कि नोटबंदी से कोई बदलाव होगा.

TOPPOPULARRECENT