गुजरात फ़सादात‌ पर राहुल गांधी के रिमार्क्स पर बी जे पी की तन्क़ीद

गुजरात फ़सादात‌ पर राहुल गांधी के रिमार्क्स पर बी जे पी की तन्क़ीद
गुजरात में 2002 के फ़सादात‌ पर राहुल गांधी के रिमार्क्स पर उन्हें अपनी शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए बी जे पी के क़ाइद एम वेंकैया नायडू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नायब सदर को 2014 के बारे में और हुक्मरानी के उमूर पर बात करनी चाहिए। वे

गुजरात में 2002 के फ़सादात‌ पर राहुल गांधी के रिमार्क्स पर उन्हें अपनी शदीद तन्क़ीद का निशाना बनाते हुए बी जे पी के क़ाइद एम वेंकैया नायडू ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नायब सदर को 2014 के बारे में और हुक्मरानी के उमूर पर बात करनी चाहिए। वेंकैया नायडू ने कहा राहुल गांधी 2002 के बारे में बात करते हैं । 2014 के बारे में किया है। वो कहते हैं आप पीछे देखें । सिर्फ़ 2002 ही क्यों ? आई ए 1947 से पीछे देखें।

कांग्रेस जिस ने 1947 से मुल्क में हुकमरान की, इसी के सबब मज़ाहिब,ज़ात, लिसानी ग्रुप्स और इलाक़ों में इख़तेलाफ़ात और दुश्मनी के हालात पैदा हुए फ़िर्कावाराना झड़पों में हज़ारों अफ़राद हलाक हुए जिस के लिये कांग्रेस ज़िम्मेदार है । उन्होंने कहा कि 1984 में सिखों के क़त्ल-ए-आम के लिये कांग्रेस ज़िम्मेदार है।

गुजरात में कितने परतशद्दुद वाक़ियात हुए। लेकिन वो कहते हैं हम सिर्फ़ 2002 पर बात करेंगे। ये कहते हुए कि बी जे पी में कोई बात छिपाने वाली नहीं है और पार्टी बेहतर हुक्मरानी , क़ाबिल क़ियादत , तरक़्क़ी और मुस्तहकम हुकूमत पर मुबाहिसा की हिमायत करती है। पार्टी के साबिक़ सदर ने इल्ज़ाम आइद किया कि कांग्रेस सिर्फ़ अवाम की तवज्जु हटाने की कोशिश कररही है क्यों कि ये अपने वादों को पूरा करने में बुरी तरह नाकाम होगई है।

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ख़वातीन को तहफ़्फुज़ात फ़राहम करने के बारे में क्यों ख़ामोश हैं। राहुल गांधी काले धन को वापिस लाने के बारे में क्यों ख़ामोश हैं ? कीमतों पर क़ाबू पाने के मामले में राहुल गांधी क्यों ख़ामोश हैं। दीगर वादों को पूरा करने के बारे में वो क्यों ख़ामोश हैं ।

हज़ारों किसानों की अम्वात पर वो क्यों ख़ामोश हैं। सवालात सैंकड़ों होसकते हैं और कांग्रेस के पास कोई जवाब नहीं है। वेंकैया नायडू ने याद दिलाया कि सुप्रीम कोर्ट की जानिब से मुक़र्ररा एस आई टी ने माबाद गोधरा फ़सादात‌ में बी जे पी के विज़ारत उज़मा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी को क्लीन चिट दी। मिस्टर नायडू ने अरविंद केजरीवाल के ज़ेरे क़ियादत पार्टी को कांग्रेस की बी टीम क़रार दिया।

Top Stories