गुजरात फ़सादाद : मोदी के साथी से पूछगिछ

गुजरात फ़सादाद : मोदी के साथी से पूछगिछ
अहमदाबाद 09 नवंबर (पी टी आई) नरेंद्र मोदी हुकूमत ने साबिक़ वज़ीर आई ए के जडेजा से 2002-ए-के मुस्लिम कश फ़सादाद के सिलसिले में नानावती कमीशन ने पूछगिछ की।

अहमदाबाद 09 नवंबर (पी टी आई) नरेंद्र मोदी हुकूमत ने साबिक़ वज़ीर आई ए के जडेजा से 2002-ए-के मुस्लिम कश फ़सादाद के सिलसिले में नानावती कमीशन ने पूछगिछ की।

फ़सादाद के दौरान फ़िर्कावाराना तशद्दुद के वाक़ियात और गोधरा ट्रेन आतिशज़दगी वाक़ियात के मुताल्लिक़ उन से सवालात किए गई। आई के जडेजा जू 2002-ए-के फ़सादाद के दौरान गुजरात की नरेंद्र मोदी हुकूमत में वज़ीर शहरी तरक़्क़ी थे नानावती कमीशन में हाज़िर हुए और उन्हों ने डेढ़ घंटा तक सवालों का जवाब दिया। ये कमीशन रिटायर्ड जस्टिस जी टी नानावटी और अक्षय महित पर मुश्तमिल है।

जडेजा नरेंद्र मोदी ज़ेर क़ियादत बी जे पी हुकूमत के दूसरे वज़ीर हैं जिन को कमीशन की जानिब से गवाह के तौर पर तलब किया और पूछ गिछ की। कमीशन ने गुज़श्ता साल उस वक़्त मुमलिकती वज़ीर-ए-दाख़िला गवर्धन जडाफ़या को भी तलब करके पूछगिछ की थी जिन्हों ने बी जे पी से ताल्लुक़ात मुनक़ते करलिए थे और बादअज़ां अपनी ज़ाती तंज़ीम महा गुजरात जनता पार्टी क़ायम की है।

कमीशन ने गोधरा वाक़िया और इस के बाद फूट पड़ने वाले मुस्लिम कश फ़सादाद के सिलसिले में जडेजा को तलब किया था। पूछगिछ के बाद जडेजा ने अख़बारी नुमाइंदों से बातचीत करते हुए कहा कि कमीशन ने मुझ से 2002-ए-के फ़सादाद के बारे में बाअज़ सवालात किए हैं।

उन्हों ने मुझ से कहा था कि मैं इन मसाइल पर वज़ाहत पेश करूं, मैंने वैसा ही किया। जडेजा जिन्हें 2007-ए-के असैंबली इंतिख़ाबात में शिकस्त हुई है नानावती कमीशन की जानिब से पूछगिछ के बारे में तफ़सीलात बताने से इनकार किया और कहा कि ये मुआमला अदालत के दायरा कार का है।

Top Stories