गुरुग्राम- इफ्तार के लिए दूध लेने जा रहे मुस्लिम डॉक्टर पर हमला, आरोपी दंगे के डर से…..

गुरुग्राम- इफ्तार के लिए दूध लेने जा रहे मुस्लिम डॉक्टर पर हमला, आरोपी दंगे के डर से…..

दिल्ली से सटे गुरुग्राम में एक बार फिर हेट क्राइम का मामला सामने आया है। जहाँ एक डॉक्टर पर अज्ञात हमलावरों ने जानलेवा हमला किया है। वारदात आर्डी सिटी  के पास की है। इस वारदात के बाद पीड़ित डॉक्टर नुरुल ने जो अपनी आपबीती बताई, वह बेहद खौफनाक है।

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक डॉक्टर नुरुल ने बताया है कि, “मैं एक प्राइवेट हॉस्पिटल में पीडियाट्रिशियन हूं और वर्तमान में डीएम-कार्डियोलॉजी परीक्षा की तैयारी कर रहा हूं। मैं इफ्तार के लिए दूध खरीदकर अपनी बैलिनो कार से लौट रहा था। अचानक, दो आदमी सफेद फॉर्चुनर में आए और बिना वजह मुझे गाली देने लगे। जब मैंने उनसे कहा कि वो रोड के रॉन्ग साइड में हैं, तो उन्होंने 8-9 और लोगों को बुला लिया और मुझे डंडों से बुरी तरह पीटने लगे। मैं पुलिस को कॉल करने की कोशिश करने लगा, लेकिन जख्मी होने के चलते मैं रोड किनारे ही बेहोश होकर गिर पड़ा। बाद में पुलिस आई और मुझे सिविल हॉस्पिटल लेकर गई।”

30 साल के डॉक्टर के सिर,आंखों, चेहरे और पैरों में गंभीर चोटें आई हैं। उन्होंने कहा कि, “उन्होंने मुझे बुरी तरह मारा और मैं उसका कारण नहीं समझ पाया। मैंने उनमें से दो लोगों को कहते सुना कि मैं मुस्लिम हूं और उन्हें भाग जाना चाहिए, नहीं तो दंगा हो जाएगा। वे मुझे सड़क किनारे ही छोड़कर भाग गए। मैं उनमें से किसी को भी नहीं जानता। मैं आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई चाहता हूं।” उत्तराखंड के रहने वाले डॉक्टर नुरुल अभी सेक्टर 52 के वजीराबाद गांव में रहते हैं। उनके साथ शुक्रवार को हुई इस घटना में सेक्टर 53 की पुलिस अज्ञात आरोपियों के खिलाफ आईपीसी की धारा-147 (दंगा भड़काने),149 (गैरकानूनी जमावड़ा),323 (नुकसान पहुंचाने) और 506 (आपराधिक इरादे) के तहत मामला दर्ज करके आरोपियों को पकड़ने के लिए दबिश दे रही है।

Top Stories