Monday , December 18 2017

गुरुनानक स्कूल में एनुअल और डेवलपमेंट फीश का हुआ मुखालिफत

प्राइवेट स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अब गार्जियन भी सड़क पर उतरने लगे हैं। बुध को गुरुनानक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के गार्जियन ने स्कूल इंतेजामिया को एनुअल फीस और डेवलपमेंट फीस देने से इंकार कर दिया। इस मुद्दे को लेकर गार्जिय

प्राइवेट स्कूलों की मनमानी के खिलाफ अब गार्जियन भी सड़क पर उतरने लगे हैं। बुध को गुरुनानक स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के गार्जियन ने स्कूल इंतेजामिया को एनुअल फीस और डेवलपमेंट फीस देने से इंकार कर दिया। इस मुद्दे को लेकर गार्जियन ने स्कूल के सामने मुजाहिरा भी किया। उनका कहना था कि वे हर साल स्कूल को हजारों रुपए एनुअल फीस और डेवलपमेंट फीस के नाम पर देते हैं, जो गलत है।
डीसी ने भी कहा है कि स्कूल ये फीश नहीं लेंगे। इसके बाद भी स्कूल की तरफ से इस मद में फीश देने के लिए गार्जियन पर दबाव बनाया जा रहा है। बुध की सुबह 8.00 बजे 100 से ज्यादा गार्जियन स्कूल पहुंचे। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि वे इस मद में फीश नहीं देंगे। इसे लेकर वे मुजाहिरा करने लगे। गार्जियन के मुजाहिरे को देखते हुए स्कूल इंतेजामिया को पुलिस बुलानी पड़ी। गार्जियन ने यह भी कहा कि भले ही उन्हें लेट फाइन लगे, लेकिन वे इस मद में किसी भी हाल में फीश जमा नहीं करेंगे।
गार्जियन के मुजाहिरे को देखते हुए स्कूल के प्रिन्सिपल डॉ. मनोहर लाल ने इसकी इत्तिला स्कूल इंतेजामिया को दी। इसके बाद स्कूल मैनेजमेंट कमेटी के सेक्रेटरी स्कूल पहुंचे। फिर दोनों के साथ कुछ गार्जियन की बातचीत भी हुई। बातचीत में गार्जियन की तरफ से तर्क दिया गया कि जब डीसी का हुक्म है, तो गार्जियन से इस मद में फीश क्यों लिया जा रहा है। स्कूल के प्रिन्सिपल ने कहा कि अगर डीसी की तरफ से ये हुक्म तहरीरी जारी होता है, तो स्कूल डीसी के हुक्म को जरूर कुबूल करेगा।

गार्जियन ने करीब दो घंटे तक मुजाहिरा किया। गार्जियन ने डीसी पर इल्ज़ाम लगाया कि इंतेजामिया की तरफ से जान बूझकर तहरीरी हुक्म जारी नहीं किया जा रहा है।
डीसी गार्जियन को बरगलाने की कोशिश कर रहे हैं। जबकि वजीरे आला का हुक्म है कि तमाम इजला के डीसी इसपर सख्त कार्रवाई करते हुए फीश पर रोक लगाएं। गार्जियन ने यह भी कहा कि जब डीसी के पास शिकायत लेकर जाते हैं, तो कहा जाता है कि इसे नोडल अफसर के पास लेकर जाएं। नोडल अफसर दरख्वास्त रख लेते हैं और कहते हैं कि डीसी से हुक्म आने के बाद कार्रवाई की जाएगी।

TOPPOPULARRECENT