Tuesday , June 19 2018

गुलबर्गा में उर्स शरीफ़ के मौके पर अताए ख़िलाफ़त

मौलाना डक्टर सयद मुहम्मद शाह गेसू दराज़ ख़ुसरो हुसैनी सज्जादा नशीन बारगाह ख़्वाजा बंदा नवाज़ ने अपने फ़र्ज़ंद उनको इजाज़त-ओ-ख़िलाफ़त के साथ तक़र्रुर जानशीन का फैसला किया है।

मौलाना डक्टर सयद मुहम्मद शाह गेसू दराज़ ख़ुसरो हुसैनी सज्जादा नशीन बारगाह ख़्वाजा बंदा नवाज़ ने अपने फ़र्ज़ंद उनको इजाज़त-ओ-ख़िलाफ़त के साथ तक़र्रुर जानशीन का फैसला किया है।

सज्जादानशीन बारगाह बंदानवाज़ ने बताया कि वो दोनों फ़र्ज़ंद उनको मंसब ख़िलाफ़त की गिरां क़दर ज़िम्मेदारी तफ़वीज़ करने जा रहे हैं जबकि हाफ़िज़ सयद मुहम्मद अली उल-हुसैनी मुहम्मद अकबर मुहम्मद मुहम्मद उल-हुसैनी को जानशीन-ओ-ख़लीफ़ा मुक़र्रर करने का फैसला किया है।

दोनों फ़र्ज़ंदन हाफ़िज़ सयद मुहम्मद अली हुसैनी मुहम्मद अकबर मुहम्मद मुहम्मद उल-हुसैनी और सयद मुस्तफ़ा उल-हुसैनी मुहम्मद अकबर मुहम्मद मुहम्मद उल-हुसैनी को बारगाह बंदा नवाज़ में मुनाक़िद होने वाली 609 वीं उर्स तक़ारीब के मौके पर 16 ज़ीकादा 23 सितंबर बरोज़ दो शंबा को ख़िलाफ़त की ज़िम्मेदारी तफ़वीज़ की जाएगी।

तक़रीब ख़िलाफ़त-ओ-सज्जादगी 23 सितंबर को 11 बजे दिन समाव ख़ाना दरगाह शरीफ़ में मुनाक़िद होगी। इस महफ़िल अताए ख़िलाफ़त में मुरेदेन , मुतवस्सिलीन-ओ-मातक़दीन से शिरकत की ख़ाहिश की गई है ।

TOPPOPULARRECENT