गुलबर्गा सोसायटी फैसला: 11 को आजीवन कारावास 12 को 7 साल की कैद

गुलबर्गा सोसायटी फैसला: 11 को आजीवन कारावास 12 को 7 साल की कैद

गुलबर्ग सोसाइटी नरसंहार कांड में विशेष एसआईटी अदालत ने शुक्रवार को 11 दोष‍ियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। इसके साथ ही 12 अन्य दोषियों को सात साल जेल की सजा दी गई है, जबकि एक अन्य को 10 साल कैद का हुक्म दिया गया है।

गुजरात में 2002 में गोधरा दंगों के दौरान हुए गुलबर्ग सोसायटी नरसंहार मामले में कांग्रेस के पूर्व सांसद एहसन जाफरी सहित 69 व्यक्ति मारे गए थे। इससे पहले अभियोजन पक्ष ने सभी 24 दोषियों द्वारा जेल में बिताई गई अवधि का ब्यौरा सौंपा जो कि अदालत ने मांगा था।

अदालत ने दो जून को इस मामले में हत्या और अन्य अपराधों के लिए 11 व्यक्तियों को दोषी ठहराया था, जबकि वीएचपी नेता अतुल वैद्य सहित 13 अन्य पर कम गंभीर अपराधों के आरोप लगाए हैं। अदालत ने मामले में 36 अन्य लोगों को बरी कर दिया था।

Top Stories