Friday , December 15 2017

गुश्ताखे रसूल कमलेश तिवारी को फांसी की सजा दी जाय

नवादा : दिने इस्लाम की हमीयत रखने वाले शहर नवादा के नौजवान आशिके रसूल और ओलमाय किराम की एक एहतेजाजी नाशिस्त ज़ेरे सदारत कारी मकसूद आलम जमा मस्जिद अनसार नगर नवादा मौलाना जहांगीर आलम अनसार नगर नवादा में मुनक्कीद हुई। इस नाशिस्त में यूपी हिन्दू महा सभा के कारगुज़ार सदर कमलेश तिवारी की नबी आखिरूल जमा मोहम्मद रसूलल्लाह की शान में गुश्ताखाना जुमलों पर शादीद गम व गुस्सा का इज़हार करते हुये सख्त लफ्जों में मज़मत की गयी।

मजलिस अलोमाय व अलामता ज़िला नवादा के ऑफिस सेक्रेटरी इनायतुल्लाह कासमी ने नुमाइंदा को बताया की शहर नवादा के तमाम मकातीब फिक्र के ओलमाए किराम मुफ्तीयान इश्क़ नबी में एक स्टेज पर रौनके अफ़रोज हुये और कसीर तादाद में मुसलमानों ने भी मुहिब्बे रसूल में उमड़ पड़े और कमलेश तिवारी के खिलाफ सरकारी अदालत नवादा में मुकदमा दर्ज़ करने का फैसला किया। इस नाशिस्त में सदर जमहुरिया हिन्द के नाम बाजरिया डीएम नवादा एक मेमोरेंडम पेश करने का फैसला किया गया। जिसमें गुश्ताखे रसूल कमलेश तिवारी को फांसी की सजा दिये जाने का मुतालिबा किया जाएगा।

TOPPOPULARRECENT