Wednesday , January 24 2018

गूगल ने ‘मोदी’ को बताया “दुनिया के टॉप 10 अपराधियों” में से एक, कोर्ट ने भेजा कंपनी को नोटिस

Narendra Modi, PM of India (File)

दुनिया भर में लोगों को इंटरनेट और इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी से जुडी हज़ारों सेवाएं देने वाली कंपनी गूगल के लिए हमारे देश भारत में इंटरनेट सेवाएं मुहैया करवाना काफी मुश्किल साबित हो रहा है इसकी वजह पैसा या देश में कनेक्टिविटी की समयस्या नहीं है बल्कि समस्या है तो वो है राजनितिक।

राजनितिक समस्या यूं कि गूगल के सामने लोगों की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक दुनिया के टॉप 10 अपराधियों की लिस्ट में देश के पीएम मोदी का नाम शामिल हो चुका है। जिसकी वजह से कंपनी को कोर्ट की तरफ से नोटिस भी मिल चुका है और केस भी दर्ज हो चुका है। हालाँकि इस पूरे मामले में गूगल का कोई दोष भी नहीं है लेकिन फिर भी उसे कोर्ट में घसीटा जा रहा है।

गूगल के मुताबिक गूगल पर कुछ भी खोजे जाने पर जो लिस्ट सामने आती है वो लोगों की तरफ से इंटरनेट पर डाली गई सामग्री का नतीजा होती है। इसलिए अगर इंटरनेट पर काम कर रहे लोग पीएम मोदी को अपनी सामग्री में अपराधी बताते हैं तो कंप्यूटर खुद ही ऐसी सामग्री को इकठा कर एक लिस्ट तैयार करेगा और यूज़र के सामने रखेगा इसमें गूगल का कोई दोष नहीं है। लेकिन साहब अब दोष हो या न हो अल्लाहाबाद के जिस कोर्ट ने गूगल को नोटिस भेज है उसका जवाब तो कंपनी को देना ही होगा। आखिर लोगों की जुबां तो नहीं पकड़ी जा सकती लेकिन कंपनी की गर्दन तक तो हाथ आसानी से….

TOPPOPULARRECENT