Monday , November 20 2017
Home / Delhi News / “गो”रक्षकों पर प्रतिबंध लगाने के लिए तहसीन पुनावाला का सुप्रीम कोर्ट में याचिका

“गो”रक्षकों पर प्रतिबंध लगाने के लिए तहसीन पुनावाला का सुप्रीम कोर्ट में याचिका

नई दिल्ली। सामाजिक कार्यकर्ता और कांग्रेस नेता शहजाद पुनावाला के भाई तहसीन पूनावाला ने गो रक्षा दलों पर प्रतिबंध लगाने के लिए सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। उन्होंने अदालत से अपील की है कि वह गो रक्षा के नाम पर दलितों और अल्पसंख्यकों पर जुल्म करने वालों के खिलाफ कार्रवाई करने को केंद्र और राज्य सरकारें को निर्देश दें।

राबर्ट वाड्रा की चचेरी बहन मोनिका वाड्रा से प्रेम विवाह करने वाले तहसीन पूनावाला ने शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर करते हुए गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, कर्नाटक और झारखंड की हाल की हिंसक घटनाओं का जिक्र किया।

उन्होंने सर्वोच्च अदालत से अपील की कि सोशल मीडिया पर गो रक्षा दलों की हिंसक सामग्री को तत्काल हटाया जाए। पूनावाला ने कहा कि वह इन कथित गो रक्षा दलों पर प्रतिबंध चाहते हैं जिनकी गतिविधियां भारतीय संविधान का उल्लंघन करती हैं। तहसीन पूनावाला ने खुद को जनहित याचिका में एक उद्योगपति और समाजसेवी बताया है। लेकिन राजनीतिक हलकों में वह कांग्रेस नेता के तौर पर जाने जाते हैं।

तहसीन पूनावाला ने अपने बयान में कहा कि प्रधानमंत्री ने खुद कहा है कि 80 फीसद गोरक्षक असामाजिक तत्व हैं। लेकिन वह यह बताना भूल गए कि जब वह मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने ना सिर्फ ऐसे संगठनों को बढ़ावा दिया बल्कि उन्हें धन लाभ भी दिया। पूनावाला ने कहा कि दुर्भाग्य से यह एक बहुत ही कमजोर पीएम की निशानी है। असल में उन्हें ऐसे लोगों के खिलाफ कार्रवाई करनी चाहिए थी।

TOPPOPULARRECENT