Tuesday , December 12 2017

गोरखपुर कांड में हत्या का मुकदमा दर्ज होना चाहिए, सीएम योगी इस्तीफा दे- राज बब्बर

लखनऊ। कांग्रेस ने गोरखपुर के मेडिकल कालेज में बच्चों की मृत्यु के लिए राज्य सरकार को दोषी ठहराते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इस्तीफे और हत्या का मुकदमा दर्ज किए जाने की मांग की है।

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजबब्बर ने गोरखपुर से लौटकर कहा कि योगी आदित्यनाथ को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए और यदि इस्तीफा देने में आनाकानी करें तो उन्हें बर्खास्त कर दिया जाना चाहिए।

राजबब्बर ने कहा कि गेरुआ कपड़ा ही पहनने वाले भाजपा के सांसद साक्षी महाराज ने गोरखपुर में बच्चों की मौतों को नरसंहार बताया है। वह भी मानते हैं कि बच्चों की स्वाभाविक मृत्यु नहीं हुई है बल्कि उनकी हत्या की गई है। इसलिए इस मामले में हत्या का मुकदमा दर्ज होना चाहिए और दोषियों को सजा-ए-मौत की सजा मिलनी चाहिए।

एक सवाल के जवाब में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि उनकी पार्टी इस मसले में केवल प्रेस कान्फ्रेंस नहीं करेगी। मामला गंभीर है। कांग्रेस सड़कों पर उतरेगी। आन्दोलन करेगी और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई कराकर मानेगी। उन्होंने मृतक बच्चों के परिजनों को एक-एक करोड़ रुपए मुआवजा देने की भी मांग की।

उन्होंने योगी आदित्यनाथ की कार्यक्षमता पर सवाल खड़ा करते हुए कहा कि जब वह अपने घर गोरखपुर को नहीं देख पा रहे हैं तो पूरा प्रदेश क्या देखेंगे। उनका कहना था कि इस सब से ध्यान हटाने के लिए भाजपा मदरसों में वन्देमातरम के गायन को लेकर बवाल मचवा सकती है इसलिए जनता को सजग रहने की जरुरत है।

स्वास्थ्यमंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह के अक्सर अगस्त में मौतों सम्बन्धी बयान की आलोचना करते हुए उन्होंने कहा कि बयान बचकाना है और इसकी जितनी भी निंदा की जाए कम है।

उन्होंने सिंह से दिवंगत प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री के खानदान से अपना नाम अलग करने की भी सलाह दी। उनका कहना था कि शास्त्री शुचिता की राजनीति के गौरव थे, लेकिन सिंह की राजनीति का ढंग ही समझ में नहीं आ रहा है।

TOPPOPULARRECENT