गोरखपुर का मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया, जहां अरबी के अलावा पढ़ाई जाती है संस्कृत

गोरखपुर का मदरसा दारुल उलूम हुसैनिया, जहां अरबी के अलावा पढ़ाई जाती है संस्कृत

इन दिनों गोरखपुर का दारुल उलूम हुसैनिया मदरसा चर्चा का विषय बना हुआ है। इस मदसरे में बच्चों को विज्ञान, गणित, अंग्रेजी, अरबी के अलावा हिंदी और संस्कृत भी पढ़ाई जा रही है।

यह मदरसा यूपी शिक्षा बोर्ड के अंतर्गत आता है। खास बात यह है कि संस्कृत पढ़ाने के लिए मुस्लिम शिक्षक ही नियुक्त किया गया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ इस समय मदरसों को आधुनिक करने के लिए कई कदम उठा रहे हैं।

मदरसे में पढ़ने वाले बच्चों का भी कहना है कि उन्हें संस्कृत पढ़ना अच्छा लगा रहा है। हमारे टीचर हमें बेहतर पढ़ा रहे हैं और हमारे परिवार के लोग भी इसमें हमारी सहायता कर रहे हैं।

Top Stories