Wednesday , April 25 2018

गोरखपुर बीआरडी मामला- ऑक्सीजन सप्लायर मनीष भंडारी को मिली जमानत

गोरखपुर के चर्चित बीआरडी मेडिकल काॅलेज में बच्चों की मौत के मामले में आरोपी मनीष भंडारी को जमानत मिल गई है. सुप्रीम कोर्ट ने मेडिकल काॅलेज में पहले ऑक्सीजन सप्लाई करने वाली पुष्पा सेल्स कंपनी के मालिक मनीष भंडारी की जमानत मंजूर की है. दरअसल करार तोड़ने और साजिश रचने के मामले में मनीष भंडारी के खिलाफ गुलरिहा थाने में केस दर्ज है.

बता दें कि आरोपी मनीष भंडारी ने पहले जमानत के लिए इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील की थी. लेकिन हाईकोर्ट ने भंडारी की जमानत याचिका खारिज कर दी थी. हाईकोर्ट के आदेश के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी. जिसके बाद पुष्पा सेल्स कंपनी के मालिक मनीष भंडारी को जमानत मिल पाई है. पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने उनकी जमानत को लेकर यूपी सरकार से जवाब मांगा था. कोर्ट में मनीष भंडारी के वकीलों ने कहा कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई थी.

ऐसे में बीआरडी मेडिकल काॅलेज में बच्चों की मौत मामले में जेल में बंद मनीष भंडारी के लिए बड़ी राहत की खबर है. दरअसल करीब सात महीने से गोरखपुर जेल में मनीष भंडारी समेत सभी नौ आरोपी बंद हैं.

अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी सामने आने के बाद विपक्ष बहुत ज्यादा हमलावर हो गया. हालांकि, सरकार की तरफ से कहा गया कि बच्चों की मौत ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई है. जांचके दौरान पाया गया कि जो कंपनी बीआरडी मेडिकल कॉलेज को ऑक्‍सीजन की सप्‍लाई करती थी उसका बिल ब‍काया था. कंपनी की तरफ से बकाया की मांग लंबे समय से की जा रही थी, लेकिन अस्पताल प्रबंधन बकाया वापस नहीं कर रहा था. आखिरकार, बकाया नहीं मिलने पर कंपनी ने ऑक्सीजन की सप्लाई रोक दी.

TOPPOPULARRECENT