गोवा दुष्कर्म मामला: सभी तीन आरोपी पर्यटकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

गोवा दुष्कर्म मामला: सभी तीन आरोपी पर्यटकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

पणजी: गोवा पुलिस ने शुक्रवार देर रात कोल्वा बीच पर सामूहिक दुष्कर्म के मामले में तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

तीनों आरोपी इंदौर के रहने वाले हैं और उन पर 20 वर्षीय पीड़िता को लूटने और सामूहिक दुष्कर्म करने का आरोप लगा है। इस घटना को उस समय अंजाम दिया गया, जब पीड़िता 22 वर्षीय अपने प्रेमी के साथ कोल्वा बीच पर टहल रही थी।

पुलिस अधीक्षक (दक्षिण गोवा) अरविंद गवास ने संवाददाताओं को बताया, “तीनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। दो आरोपी संजय धनंजय पाल (23) और राम संतोष भारिया (19) को शनिवार तड़के गिरफ्तार किया, जबकि तीसरे आरोपी विश्वास मकराना (24) को दक्षिण गोवा के रेलवे स्टेशन से गिरफ्तार किया गया।”

गोवा के पास के गांव की रहने वाली पीड़िता ने यह भी आरोप लगाया है कि आरोपियों ने उसके साथ कथित दुष्कर्म की वीडियो रिकॉर्डिग भी की थी और उन्होंने पुलिस में शिकायत नहीं करने को लेकर पीड़िता को ब्लैकमेल भी किया।

पुलिस का कहना है कि मेडिकल जांच में दुष्कर्म की पुष्टि हुई है।

कोल्वा पुलिस थाने में शुक्रवार को भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (दुष्कर्म) और 394 (लूट) के तहत मामला दर्ज किया गया।

तीसरे आरोपी की गिरफ्तारी के बाद टाउन एंड कंट्री प्लानिंग मिनिस्टर विजय सरदेसाई ने ट्वीट कर पुलिस की त्वरित जांच को सराहा, जबकि गोवा आने वाले पर्यटकों की गुणवत्ता को लेकर अफसोस प्रकट किया।

सरदेसाई ने ट्वीट कर कहा, “पर्यटकों द्वारा ब्लैकमेल, दुष्कर्म और लूट का मामला। मैंने हमेशा इस पर जोर दिया है कि पर्यटकों की गुणवत्ता हमारा मुख्य ध्येय होना चाहिए। गोवा तभी सुरक्षित हो सकता है और आगे बढ़ सकता है।”

कुछ महीने पहले सरदेसाई ने घरेलू पर्यटकों की बड़ी आबादी को धरती पर गंदगी बताया था। उस समय उनके इस बयान से विवाद खड़ा हो गया था।

Top Stories