Thursday , December 14 2017

गोवा मामले में कांग्रेस को झटका, सुप्रीम कोर्ट ने कहा- ‘न्योता देना राज्यपाल का विशेषाधिकार’

नई दिल्ली। गोवा में सरकार गठन को लेकर सुप्रीम कोर्ट पहुंची कांग्रेस पार्टी को झटका लगा है। सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया कि सरकार बनाने के लिए न्योता देना गवर्नर के विशेषाधिकार का है। उस वक्त आप कहां थे जब पर्रिकर ने सरकार बनाने का दावा किया? कांग्रेस ने गोवा की राज्यपाल मृदुला सिन्हा द्वारा मनोहर पर्रिकर को राज्य का मुख्यमंत्री नियुक्त किए जाने के फैसले को चुनौती देते हुए उच्चतम न्यायालय का रूख किया था।

गौरतलब है कि कांग्रेस ने सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरने के बावजूद सरकार बनाने के लिए खुद को न बुलाए जाने पर आपत्ति जताई थी। उसका कहना है कि गोवा विधानसभा चुनाव में वह अकेले सबसे बड़े दल के तौर पर उभरी है। उल्लेखनीय है कि गोवा में कांग्रेस के 17 विधायक हैं जबकि भाजपा के विधायकों की संख्या 13 है।

गोवा फारवर्ड पार्टी और एमजीपी के तीन-तीन विधायक हैं, तीन विधायक निर्दलीय और राकांपा का एक विधायक है। पार्टी ने उच्चतम न्यायालय में एक याचिका दायर कर मुख्यमंत्री के तौर पर मनोहर पर्रिकर की नियुक्ति को चुनौती भी दी है। मणिपुर में भी कांग्रेस सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। मणिपुर में भाजपा दूसरे स्थान पर रही है।

TOPPOPULARRECENT