Wednesday , December 13 2017

गोविंद पंसारे क़तल की आजलाना तहक़ीक़ात पर-ज़ोर

मुंबई: बॉम्बे हाइकोर्ट ने आज हुकूमत महाराष्ट्र से कहा है कि माक़ूलियत पसंद गोविंद पंसारे के क़तल केस की सीआईडी तहक़ीक़ात में तेज़ी पैदा कर दी जाये। जस्टिस रणजीत मौर्य पर मुश्तमिल डीवीझ़न बेंच ने आज गोविंद पंसारे और दूसरे मुख़ालिफ़ तुहमात जहदकार नरेंद्र धो बिक्र के क़तल की आज़ादाना तहक़ीक़ात के लिए एक अर्ज़ी की समात की।

पनसारे और धो बिक्र के क़तल की तहक़ीक़ात में पुलिस के बेहतरीन ताल मेल पर-ज़ोर देते हुए बेंच ने कहा कि तहक़ीक़ाती इदारों को अपनी कार्रवाई में तेज़ी पैदा करना चाहिए। पनसारे ख़ानदान की नुमाइंदगी करते हुए ऐडवोकेट अभय‌ न्यूगी ने अदालत को मतला किया । मुल्ज़िम समीर गायकवाड के ख़िलाफ़ 8 मार्च को इल्ज़ामात वज़ा किए जा सकते हैं जबकि दाएं बाज़ू की तंज़ीम संतान संस्था के कारकुन गायकवाड को पनसारे क़तल केस में गुज़िश्ता साल सितंबर में गिरफ़्तार कलिया गया था।

क़ब्लअज़ीं महाराष्ट्र सीआईडी ने अदालत को बताया कि पनसारे क़तल केस में गिरफ़्तार वाहिद मुल्ज़िम गायकवाड के ख़िलाफ़ चार्ज शीट तैयार कराई और मज़ीद तहक़ीक़ात जारी है क्योंकि एक और मुल्ज़िम को गिरफ़्तार करने की ज़रूरत है, जिस पर हाइकोर्ट जजस ने इस्तिफ़सार किया कि अगर तहक़ीक़ात का सिलसिला जारी है तो चार्ज शीट किस तरह पेश किया जा सकता। लिहाज़ा तहक़ीक़ात जल्दाज़ मुकम्मल करली जाये|

TOPPOPULARRECENT