Tuesday , December 12 2017

गौरक्षको द्वारा मुस्लिम की हत्या पर इन्साफ मांगने गए मुफ़्ती कयूम को पुलिस ने किया गिरफ्तार

अहमदाबाद में गौरक्षकों के हाथों मारे गये मुहम्मद अयूब अपने घर के एकलौते कमाने वाले थे जिनके सर पर उनकी विधवा माँ दो बच्चे और पत्नी के भरण पोषण की ज़िम्मेदारी थी। गुजरात के रामराज में मार दिये गये।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

दलितों की पिटाई पर ऊना से अहमदाबाद तक यात्रा निकालने के लिए परमिशन और पूरे गुजरात में दलितों को विरोध प्रदर्शन की अनुमति देने वाली गुजरात सरकार ने 11 साल जेल में रहने के बाद अक्षरधाम मंदिर में आतंकी घटना से निर्दोष छूटे मुफ्ती अब्दुल कयूम और उनके साथियों को विरोध प्रदर्शन करने के कारण गिरफ्तार कर लिया। अभी तक उनको छोड़ा नहीं गया है।

यह है “गुजरात माडल” विरोध प्रदर्शन करने नहीं दोगे और हिंसा की तो आतंकवादी कह दोगे । और कौन सा रास्ता है बता दो ।

मुफ्ती अब्दुल कयूम के साथ खड़े हों नहीं तो कयादत करने फिर कोई सामने नहीं आएगा।

TOPPOPULARRECENT