गौरी लंकेश हत्या: एसआईटी ने संदिग्ध हत्यारों के स्केच किए जारी

गौरी लंकेश हत्या: एसआईटी ने संदिग्ध हत्यारों के स्केच किए जारी
Click for full image

बेंगलुरु: पत्रकार-कार्यकर्ता गौरी लंकेश की हत्या की जांच करने वाले एक विशेष जांच दल के अधिकारियों ने शनिवार को संदिग्ध हत्यारों के तीन स्केच जारी किए हैं और वह सार्वजनिक मदद चाहते हैं।

एसआईटी सूत्रों के मुताबिक, “तीन लोग थे जो गौरी को उनके घर के पास मारने के लिए दो बाइक पर आए थे। दो एक बाइक पर थे और एक अन्य बाइक पर एक राइडर था। हम किसी की पहचान करने में सक्षम नहीं थे क्योंकि हर किसी ने हेलमेट पहना हुआ था।

सूत्रों ने कहा, “हालांकि, सीसीटीवी फुटेज में पुलिस ने उस व्यक्ति की आँखें देख ली हैं. पुलिस ने तीन स्केच आर्टिस्ट की मदद ली और फ़ोटो में पुलिस को मिली समानताओं के आधार पर उन्होंने एक संदिग्ध का एक स्केच बनाया है।”

सिंह ने बताया, “हमें गौरी लंकेश के घर के बाहर सीसीटीवी से कुछ सुराग मिले, हम सभी कोणों की जांच कर रहे हैं. हमें अब तक दाभोलकर की हत्या के लिए कोई क्लू नहीं मिल पाया है।”

जब पूछा गया कि क्या इसमें हिंदू संगठन सनातन संस्था की कोई भूमिका है, तो बी.के. सिंह, जो एसआईटी का नेतृत्व कर रहे हैं, ने किसी विशेष समूह या संगठन से इनकार करते हुए कहा कि बाहरी उपस्थिति में परिवर्तन संभवतः जांचकर्ताओं को गुमराह करने के लिए किया गया है।

“यह जानकारी (सनाथन संस्था) मीडिया में ही है। हमारी तरफ से, अब तक किसी भी संगठन की भागीदारी की कोई जानकारी नहीं मिली है।”

55 वर्षीय गौरी लंकेश, 5 सितंबर को बेंगलुरू में उनके निवास के बाहर अज्ञात हमलावरों ने गोली मार दी थी।

लंकेश कन्नड़ अखबार ‘गौरी लंकेश पत्रिका’ की संपादक थीं।

Top Stories