Tuesday , December 12 2017

ग्रेटर हैदराबाद म्यूनसिंपल कारपोरेशन को प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूली की इजाज़त

हैदराबाद ०६अगस्त (एजैंसीज़) रियास्ती हुकूमत ने ग्रेटर हैदराबाद म्यूनसिंपल कारपोरेशन को शहर के हदूद में प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूल करने की इजाज़त दे दी।

हैदराबाद ०६अगस्त (एजैंसीज़) रियास्ती हुकूमत ने ग्रेटर हैदराबाद म्यूनसिंपल कारपोरेशन को शहर के हदूद में प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूल करने की इजाज़त दे दी।

इस तरह ग्रेटर हैदराबाद म्यूनसिंपल कारपोरेशन की आमदनी में ज़बरदस्त इज़ाफ़ा होगा। अब तकपेशावराना टैक्स की वसूली महिकमा कमर्शियल टैक्स किया करता था। जी ऐच एमसी को उमीद है कि प्रोफ़ैशनल टैक्स के तौर पर उसे तीन सौ करोड़ रुपय वसूल होंगी। बलदीहुक्काम का कहना है कि कमर्शियल टैक्स महिकमा ने प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूल करने के लिएसंजीदगी से कोशिश नहीं की और ग्रेटर हैदराबाद म्यूनसिंपल कारपोरेशन को इस टैक्स का मसतहक़ा हिस्सा वसूल नहीं हुआ।

हर साल कारपोरेशन को इस के हिस्सा के तौर पर महिज़ पच्चास करोड़ रुपय वसूल हुई। कारपोरेशन ने तवक़्क़ो ज़ाहिर की कि इस का अमलाबेहतर तौर पर प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूल करेगा। प्रॉपर्टी टैक्स बिल कुलैक्टरस और इन्सपैक्टरस की शक्ल में इस का टैक्स वसूली का मज़बूत नैटवर्क मौजूद है।

शहर में डॉक्टर्स, इंजीनरस, आरकीटकटस, चार्टर एकाऊंटैंटस , वुकला और दूसरे तबक़ातपेशावराना टैक्स अदा नहीं कररहे हैं जिस की वजह से जी ऐच एमसी को करोड़ों रुपय का नुक़्सान हुआ है। जी ऐच एमसी के एक ओहदेदार ने कहाकि हुकूमत ने कारपोरेशन को प्रोफ़ैशनल टैक्स वसूल करने का इख़तियार दिया है। अब कारपोरेशन टैक्स वसूल करेगी और तवक़्क़ो है कि तीन सौ करोड़ रुपय तक की वसूली होगी।

TOPPOPULARRECENT