Saturday , December 16 2017

घरेलू एयरलाइन्स के लिए खुल सकते हैं सरहद पार के रास्ते..

हुकूमत घरेलू एयरलाइन्स कंपनियों को बैरून मुमालिक में उड़ान भरने के कवानीन में जल्द ही तरमीम लाकर ढील दे सकती है।

हुकूमत घरेलू एयरलाइन्स कंपनियों को बैरून मुमालिक में उड़ान भरने के कवानीन में जल्द ही तरमीम लाकर ढील दे सकती है।

हुकूमत इस बात पर ग़ौर कर रही है कि घरेलू सतह पर चलाए जाने वाहे एयर सर्विसेस को बैरून मुल्क सर्विस की इजाजत दी जाए। मौजूदा क़वानीन के मुताबिक़ कोई भी घरेलू एयरलाइन तभी बैरून मुल्क उडान भर सकती है जब उसने मुल्क में लगातार पांच साल उडान भरी हो और उसके पास कम से 20 एयरबस का बेड़ा हो।
इस कानून में तरमीम लाने के लिए एक नोट एविएशन मिनिस्ट्री को भेजा गया है, ताकि घऱेलू हवाई जहाज कंपनियाँ भी आसानी से अपनी खिदमात सरहद पार तक पहुंचा सकें।
कानून मेव तरमीम या तबदीली का फैसला काबीना की बैठक में ही लिया जाएगा। काबिले जिक्र लै कि गैर मुल्की एयरलाइन कंपनियां जो कि इस तरह के कानून पर खरी नहीं उतरती हैं, पहले से हिन्दुस्तान में काम कर रही हैं. इन कंपनियों के मुताबिक उनके मुल्क में ऐसा कोई कानून नहीं है।

TOPPOPULARRECENT