Thursday , December 14 2017

घरों में दस्तक दे कर जदयू ने फूंका इंतिखाबी बिगुल

जदयू ने जुमेरात को रियासत भर में लोगों के घरों पर दस्तक दी। ‘हर घर दस्तक’ की पटना समेत पूरे रियासत में धूम-धड़ाके के साथ लांचिंग कर जदयू ने एसेम्बली इंतिख़ाब का बिगुल फूंक दिया है। पटना में वजीरे आला नीतीश कुमार, रियासत जदयू सदर वशिष

जदयू ने जुमेरात को रियासत भर में लोगों के घरों पर दस्तक दी। ‘हर घर दस्तक’ की पटना समेत पूरे रियासत में धूम-धड़ाके के साथ लांचिंग कर जदयू ने एसेम्बली इंतिख़ाब का बिगुल फूंक दिया है। पटना में वजीरे आला नीतीश कुमार, रियासत जदयू सदर वशिष्ठ नारायण सिंह समेत सरकार के कई वज़ीरों, जदयू के एमपी और एमएलए समेत दीगर लीडरों ने दस्तक दी।

वजीरे आला पटना सिटी इलाके में तकरीबन ढ़ाई घंटे रहे और लोगों से मिलते रहे। उन्होंने लोगों से अपनी हुकूमत के कामकाज के बारे में फीडबैक लिया और कामकाज को और बेहतर बनाने के सुझाव भी मांगे। उन्होंने सरकार की काम्याबियों को बताते हुए लोगों से कहा कि अगर वे इससे इतमीनान हैं तो उनको एक बार फिर मौका दें।

वजीरे आला का काफिला वहां से घसियारी गली पटना सिटी होते हुए तकियाशरीफ मितन घाट पहुंचा। वहां सैयद शाहिद हुसैन उर्फ अमीर बाबू से मुलाकात कर उनकी ताजपोशी के लिए मुबारकवाद दी। वजीरे आला ने सैयद शाह ख्वाजा रूकनुद्दीन अहमद उर्फ अबू बाबू के मजार पर चादरपोशी की। इस दौरान प्रशांत किशोर भी अपने टीम के साथ मौजूद रहे। उन्होंने बड़ी पटन देवी मंदिर में भी पूजा अर्चना की।

जदयू दफ्तर में रियासती सदर वशिष्ठ नारायण सिंह की मौजूदगी में प्रशांत किशोर की टीम ने ‘दस्तक’ नाम से इस अवामी रब्ता मुहिम को लांच किया। वहां मौजूद लोगों को ‘बिहार में बहार हो, नीतीश कुमार हो’ गीत का आडियो सीडी भी दिया गया।

वशिष्ठ नारायण सिंह ने कहा कि हर साथी को दस घरों में दस्तक देना है। अपनी बात कहनी है और लोगों की बात सुननी है। 30 दिन में दस लाख कारकुनान एक करोड़ दस्तक देंगे और तीन करोड़ लोगों से रू-ब-रू होंगे। मिस्टर सिंह ने कहा कि यह प्रोग्राम आज पूरे बिहार में एक साथ 15 हजार जगहों पर शुरू किया गया। प्रोग्राम 30 जुलाई तक चलेगा।

TOPPOPULARRECENT