Thursday , December 14 2017

चंद्र बाबू के गुमराहकुन वादों से वाई एस आर सी पी को नुक़्सान

सदर वाई एस आर कांग्रेस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि मुल्क में मोदी की लहर और सदर तेलुगु देशम चंद्र बाबू नायडू के गुमराहकुन वादों से सीमा - आंध्र में वाई एस आर सी पी को नुक़्सान हुआ। नताइज मंज़रे आम पर आने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए

सदर वाई एस आर कांग्रेस जगन मोहन रेड्डी ने कहा कि मुल्क में मोदी की लहर और सदर तेलुगु देशम चंद्र बाबू नायडू के गुमराहकुन वादों से सीमा – आंध्र में वाई एस आर सी पी को नुक़्सान हुआ। नताइज मंज़रे आम पर आने के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए उन्हों ने पार्टी की शिकस्त को तस्लीम करते हुए आइन्दा पाँच साल बाद दोबारा हुकूमत तशकील देने की उम्मीद ज़ाहिर की।

उन्हों ने कहा कि पाँच साल क़ब्ल जब उन्हों ने पार्टी तशकील दी थी तो वो और उन की वालिदा लोक सभा और असेंबली में तन्हा थे, ताहम कुछ ही अर्सा बाद वाई एस आर कांग्रेस अरकान असेंबली की तादाद बढ़ कर 20 और रुक्न लोक सभा की तादाद दो हो गई थी, ताहम अब 70 असेंबली और 10 लोक सभा हल्क़ों पर कामयाबी के इमकानात हैं।

उन्हों ने कहा कि गुज़िश्ता पाँच साल के दौरान अवामी मसाइल को मौज़ू बनाते हुए वो सब से ज़्यादा अवाम के दरमयान रहे, ताहम मुल्क में मोदी लहर और चंद्र बाबू नायडू के झूटे वादों ने अवाम को गुमराह किया, लेकिन वो उस की परवाह ना करते हुए मज़ीद पाँच साल तक अवामी ख़िदमात अंजाम देंगे और अवामी मसाइल हुकूमत से रुजू करने के मुआमले में अपोज़ीशन का तामीरी रोल अदा करेंगे।

उन्हों ने कहा कि वो हर मसअले पर अवाम के साथ दियानतदारी से काम कर रहे हैं, जब कि चंद्र बाबू नायडू ने कोई रोल अदा नहीं किया, बल्कि बी जे पी से इत्तिहाद किया और झूटे वादों के ज़रीए अवाम को गुमराह किया।

उन्हों ने कहा कि वाई एस आर कांग्रेस तन्हा थी और आइन्दा भी किसी से इत्तिहाद नहीं करेगी। मुस्तक़बिल की हिक्मते अमली के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए कहा कि अब तक सदर कांग्रेस सोनीया गांधी से मुक़ाबला था, अब वो चंद्र बाबू नायडू से मुक़ाबला करेंगे।

TOPPOPULARRECENT