Monday , December 18 2017

चन्द्र शेखर राव‌ मौकापरस्त लीडर , मुख़ालिफ़ मुस्लिम एजंडा

हैदराबाद । 24 । फरवरी : ( सियासत न्यूज़ ) : तलंगाना राष़्ट्रा समीती से मुअत्तल शूदा पोलीट ब्यूरो रुकन-ओ-साबिक़ रुकन असैंबली सय्यद यूसुफ़ अली ने आज अपना रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए कहा कि सदर टी आर इसके चन्द्र शेखर राव‌ को ये हक़ नहीं बनत

हैदराबाद । 24 । फरवरी : ( सियासत न्यूज़ ) : तलंगाना राष़्ट्रा समीती से मुअत्तल शूदा पोलीट ब्यूरो रुकन-ओ-साबिक़ रुकन असैंबली सय्यद यूसुफ़ अली ने आज अपना रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए कहा कि सदर टी आर इसके चन्द्र शेखर राव‌ को ये हक़ नहीं बनता कि वो उन्हें पार्टी से मुअत्तल करे । उन्हों ने अपना सख़्त रद्द-ए-अमल ज़ाहिर करते हुए सदर टी आर उसको कड़ी तन्क़ीद का निशाना बनाया । सय्यद यूसुफ़ अली जो आज अपनी क़ियामगाह पर प्रैस कान्फ़्रैंस को मुख़ातब थे । के चन्द्र शेखर राव‌ को एक मौकापरस्त और मुफ़ाद परस्त क़ाइद क़रार दिया और सदर टी आर इस पर इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि चन्द्र शेखर राव‌ मुख़ालिफ़ मुस्लिम एजंडा रखते हैं और वो मुस्लमानों की भलाई तो कुजा वो मुस्लमानों को ख़ुशहाल भी नहीं देख सकते ।

उन्हों ने कहा कि वो अंदरून एकता दो यौमदूसरी पार्टी में शमूलीयत का ऐलान या फिर शमूलीयत इख़तियार करेंगे । उन्हों ने इस बात को वाज़िह करदिया कि वो चाहे किसी भी जमात में हूँ तेलंगाना का नारा इन का अहम नारा होगा । और मुस्लिम अक़ल्लीयत की बहबूद और पार्टी सतह पर मुस्लिम क़ियादत की पहचान के लिए वो अपनी सारी तवज्जा मर्कूज़ करेंगे । सय्यद यूसुफ़ अली ने के सी आर को बावर किराया कि वो कोई तेलंगाना के ठेकदार नहीं हैं बल्कि तलंगाना का हर बच्चा और बड़ा तेलंगाना का हिस्सा है । उन्हों ने कहा कि के चन्द्र शेखर राव‌ ज़रूरत पड़ने पर तलंगाना का नारा और ज़रूरत महसूस ना होने पर गहिरी नींद में सोते हैं । उन्हों ने सदर टी आर इसपर अपनी सख़्त ब्रहमी का इज़हार करते हुए कहा कि वो अपना रवैय्या तबदीलकरलीं बसूरत-ए-दीगर अवाम के फ़ैसला का इंतिज़ार करना पड़ेगा ।

तेलंगाना की अवाम हर पहलू पर ग़ौर कररही है । उन्हों ने कहा कि टी अर उसको क़ायम हुए ग्यारह साल काअर्सा गुज़र चुका और अभी तक सिवाए अस्तीफ़ों और बेक़सूर अवाम की जानों को गंवाने के कुछ और हासिल नहीं किया । उन्हों ने कहा कि इंतिख़ाबात में अज़ीम इत्तिहाद के वक़्त उन्हें रुकन पार्लीमैंट ज़हीर आबाद के लिए उम्मीदवार बनाया गया और आपसी मुफ़ाहमत के तहत वो टी आर ऐस में शामिल हुए थे और इसी वक़्त के सी आर चाहते थे कि एक रुकनपार्लीमैंट का उन के खाते में इज़ाफ़ा होसके । बल्कि उन्हें किसी किस्म की कोई हमदर्दी नहीं है । उन्हों ने बताया कि तीन साल से टी आर इससे वाबस्तगी के दौरान उन्हों ने कोईमुख़ालिफ़ पार्टी सरगर्मीयों में हिस्सा नहीं लिया । बल्कि के चन्द्र शेखर राव की जानिब से लुधियाना में बी जे पी इजलास में शिरकत की मुख़ालिफ़त की थी और इस वक़्त कहा था कि ऐसे इक़दामात से अक़ल्लीयती तबक़ा के जज़बात मुतास्सिर होंगे और टी आर उसका सैकूलर किरदार मुतास्सिर होगा । बस यही बात के चन्द्र शेखर राव‌ को पसंद नहीं आई और इस ने इस का इसतरह जवाब दिया । उन्हों ने के चन्द्र शेखर राव‌ से सवाल किया कि आया उन को बुरा भला कहने और उन से गाली गलौज करने वालों के ख़िलाफ़ उन्हों ने कोई कार्रवाई क्यों नहीं की और सिर्फ यूसुफ़ अली के ख़िलाफ़ कार्रवाई क्यों की ।

क्यों कि वो मुस्लमान हैं । उन्हों ने सदर टी आर इसपर मुस्लिम दुश्मन पालिसीयों का इल्ज़ाम लगाते हुए कहा कि महबूबनगर से इबराहीम को टिकट देना भी उन की ढोंगी पालिसी का हिस्सा है । जबकि इबराहीम के ख़िलाफ़ बी जे पी से महबूबनगर टी आर ऐस सदर मुक़ाबला कर रहा है ।

उन्हों ने कहा कि अयम् अलसी से अस्तीफ़ा के बाअस अलातास को जो धोका दिया गया और अब इबराहीम को बेवक़ूफ़ बनाया जा रहा है । उन्हों ने कहा कि के सी आर अब पार्टी पर अपनी गिरफ्त‌ खो चुके हैं । एक तरफ़ बेटी और दूसरी तरफ़ बेटे को बढ़ावा दे कर वो दीगर सख़्त मेहनत करने वाले क़ाइदीन को नज़रअंदाज कर रहे हैं ।

उन्हों ने कहा कि तेलंगाना की तशकील पर के सी आर ने चीफ़ मिनिस्टर दलित को और डिप्टी चीफ़ मिनिस्टर मुस्लिम को बनाने का ऐलान किया लेकिन वो अपनी ग्यारह साला टी आर उसकी सदारत में एक भी मुस्लिम उम्मीदवार को कामयाब करवाने में नाकाम रहे । उन्हों ने के चन्द्र शेखर राव‌ पर इल्ज़ाम लगाया कि इन की पालिसीयां तेलंगाना के ग़द्दारों और मुफ़ाद परस्तों को फ़रोग़ देने में मददगार साबित हो रही हैं । इस मौक़ा पर तलगो देशम के जवाँसाल क़ाइद फ़हीम-ओ-दीगर मौजूद थे ।।

TOPPOPULARRECENT